जज्बे को सलाम: किशोरी ने दिखाई हिम्मत, बाल विवाह की तैयारी कर रहे माता-पिता को करवाया पाबंद

जज्बे को सलाम: किशोरी ने दिखाई हिम्मत, बाल विवाह की तैयारी कर रहे माता-पिता को करवाया पाबंद

Tej Narayan Sharma | Publish: Apr, 18 2018 12:21:04 AM (IST) Bhilwara, Rajasthan, India

आखातीज पर पुलिस व प्रशासन रहा सावचेत, शिकायत पर विभिन्न स्थानों पर दस जनों को कराया पाबंद

भीलवाड़ा।

बाल विवाह रोकथाम की जागरूकता का असर दिखने लगा है। बिजौलियां में बाल विवाह के खिलाफ एक किशोरी ने मंगलवार को आवाज मुखर की। आखातीज पर उसका बाल विवाह करने की परिजनों ने तैयारी में थी, लेकिन किशोरी ने हिम्मत दिखाते हुए अपना बाल विवाह रूकवा दिया। पुलिस व प्रशासन ने किशोरी के माता-पिता को पाबंद किया। वहीं जिले में करीब आधा दर्जन स्थानों पर बाल विवाह होने की सूचना पर विभिन्न थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर वर व वधू पक्ष के लोगों को पाबंद किया।

 

सहायक उपनिरीक्षक अर्जुनसिंह ने बताया कि बिजौलियां में रह रही 17 वर्षीय किशोरी का आखातीज पर बुधवार को बाल विवाह होना था। परिजनों ने तैयारी भी कर ली। किशोरी विवाह नहीं करना चाहती थी। उसने परिजनों को समझाया भी, लेकिन परिजन तैयार नहीं हुए। आखिरकार उसने पुलिस अधीक्षक और उपखण्ड अधिकारी को शिकायत भेजी। शिकायत मिलने के बाद अधिकारियों ने गम्भीरता दिखाई और कार्रवाई के आदेश दिए। इसके बाद बिजौलियां पुलिस ने घर पहुंच कर किशोरी के माता-पिता को पाबंद कराया कि वह बाल विवाह नहीं करवाएंगे। वहीं वर पक्ष के माता-पिता को भी चेताते हुए बारात लेकर नहीं आने के लिए कहा। उधर, माण्डलगढ़ थाना पुलिस ने रामपुरिया गांव पहुंच कर कार्रवाई की। यहां भी दो भाई अपने चार नाबालिग पुत्रियों का बाल विवाह करने वाले थे। दोनों को पाबंद कराया।

 

वहीं कल्याणपुरा, धौलपुरा, रामपुरा से आ रही बारात को भी रोक दिया। चारों पुत्रियों की शादी 20 अप्रेल को होने वाली थी। उधर, बनेड़ा थाना पुलिस ने भी लसाडिया व खारोलिया खेड़ा गांव में बाल विवाह की तैयारी कर रहे चार जनों को पाबंद कराया। कई जगह तो टेंट-लाइट लग चुके थे। बारातियों के लिए भोजन तक तैयार हो गया था। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के पहुंचने से तैयारियां धरी रह गई। लाइट, टेंट, घोड़ी, बैंड व हलवाई वाले को बाल विवाह में सहयोग नहीं करने के लिए चेताया। इसके चलते तैयारियां धरी रह गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned