बैंक खुले लेकिन सूने पड़े

कर्मचारियों में है कोरोना का खौफ
दिन भर में पांच से ज्यादा लोगों भी नहीं आते बैंक

भीलवाड़ा।
Banks open but have to be heard in bhilwara कोरोना वायरस की चेन तोडऩे के लिए प्रदेश में लॉकडाउन है। लेकिन बैंकों में आज भी काम.काज यथावात चल रहा है। कर्मचारी बैंकों में तो आ रहे हैए लेकिन उनमें कोरोना का खौफ है कि कहीं उनमें भी संक्रमण न आ जाए। हालांकि बैंकों में दिन भर में खाताधारकों की संख्या दस से ज्यादा भी नहीं है। इसके चलते वे दिन भर अपने दूसरे काम निपटाने में लगे रहते है।
Banks open but have to be heard in bhilwara बैंक के एक अधिकारी ने बताया कि बैंक आने के लिए कर्मचारियों पर पुलिस डण्डे बरसा रही है। वे बैंक के कार्ड को नहीं मान रहे है। इसके कारण कुछ बैंक अधिकारियों को तो कर्मचारियों को लाने व छोडऩे के लिए वाहन लगाना पड़ा है। अधिकारी ने बताया कि किसी भी व्यक्ति के खाते में अभी न तो पेंशन ना ही किसी तरह का वेतन आता है। फिर भी सरकार ने सभी बैंकों को आवश्यक सेवा मानते हुए संचालन करने के आदेश जारी कर रखे है।
हर एटीएम में राशि
भारतीय स्टेट बैंक के अधिकारी ने बताया कि शहर व जिले में जितने भी एटीएम लगे है उनमें हर बैंक के अधिकारी प्रतिदिन राशि डालने का काम कर रहे है। जिले में लगभग 175 से अधिक एटीएम संचालित है। इसके अलावा बैंकों की ओर से राशि जमा कराने के लिए अलग से सीडीएम लगा रखे है। इसके माध्यम से कोई भी खाताधारक राशि जमा करवा सकता है।
बैंकों में अल्टरनेट दिन पर आधा आएगा स्टाफ
हालांकि एक अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस को देखते हुए बैंकों में गैर.जरूरी सेवाओं को बंद कर दिया गया है। जिले के अधिकतर बैंकों में अल्टरनेट व्यवस्था कर दी गई है। इनमें आधा स्टाफ एक दिन और आधा स्टाफ दूसरे दिन शाखा पर आएगा। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए बैंकों ने अपने स्टाफ की संख्या में 50 प्रतिशत तक कमी की है। अब यह भी संभावना है कि जल्द ही बैंक का समय आधे दिन का कर दिए जाएगाए यानी बैंक सुबह दस बजे से लंच तक ही खुल सकते हैं।
कर्मचारियों व ग्राहकों के लिए सुविधा
एसबीआई सेवासदन शाखा प्रबन्ध विजयकुमार आर्य ने बताया कि बैंक में आने वाले सभी खाताधारकों व बैंक कर्मचारियों को बैंक में आने से पहले हाथ धुलवानाए सेनेटाइजर करने के बाद प्रवेश दिया जा रहा है। हर काउण्टर पर सेनेटाइजर रखा गया है। हर समय व्यक्ति व कर्मचारी सेनेटाइजर का उपयोग कर सके।
बैंकों मे मिलेंगी बस ये सुविधाएं
बैंकों में अब कैश डिपॉजिट और विड्रॉलए चेक क्लियरिंग की सुविधाए रेमिटेंस और सरकारी लेनदेन का ही काम किया जाएगा। इसके अलावा अन्य सभी सुविधाओं को बंद कर दिया गया है। इन चार काम के अलावा अन्य कोई काम बैंक में नहीं किए जाएंगे। एन एकाउंट ओपिनंगए लोनए लिमिट तथा अन्य कार्यों पर रोक लगा दी गई है। कोरोना वायरस की वजह से बैंकों ने अपने स्टाफ की संख्या में 50 प्रतिशत तक कमी की है ताकि वायरस से उनका एक्सपोजर कम से कम हो सके।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned