scriptBe careful, this is the bus stand intersection of Bhilwara | bus stand intersection of Bhilwara सावधान, यह है भीलवाड़ा का बस स्टैंड चौराहा | Patrika News

bus stand intersection of Bhilwara सावधान, यह है भीलवाड़ा का बस स्टैंड चौराहा

Be careful, this is the bus stand intersection of Bhilwara तकनीकी खामियां कहे या फिर नगरीय नियोजन की अनदेखी। शहर के सभी प्रमुख चौराहा दुर्घटना जोन बने हुए है। इन्हीं में शहर के मध्य िस्थत सबसे बड़े रोडवेज बस स्टैंड चौराहा की हालत कही अधिक बुरी है।

भीलवाड़ा

Published: April 21, 2022 08:22:54 am

नरेन्द्र वर्मा की रिपोर्ट..भीलवाड़ा। तकनीकी खामियां कहे या फिर नगरीय नियोजन की अनदेखी। शहर के सभी प्रमुख चौराहा दुर्घटना जोन बने हुए है। इन्हीं में शहर के मध्य िस्थत सबसे बड़े रोडवेज बस स्टैंड चौराहा की हालत कही अधिक बुरी है। यहां दिनभर वाहनों का दबाव रहता है, इसके बावजूद चौराहे की तकनीकी खामियों को सुधारने एवं यहां के आवागमन व्यवस्था को व्यस्थित करने की बड़ी पहल आज तक किसी भी विभाग ने नहीं की है। एक मायने में यहां की स्थिति अंधा कुआं की भांति ही बनी हुई है। Be careful, this is the bus stand intersection of Bhilwara
Be careful, this is the bus stand intersection of Bhilwara
Be careful, this is the bus stand intersection of Bhilwara
रोडवेज बस स्टैंड चौराहा से नेहरू रोड, हरिशेवा धाम रोड, लव गार्डन रोड, कृषि उपज मंडी रोड जुड़ी हुई है। चौराहा पर वाहनों का दबाव सुबह छह बजे से शुरू होता है जो कि मध्य रात्रि तक बना रहता है। सुबह नौ बजे से दोपहर बारह बजे और शाम छह बजे से रात आठ बजे तक तो यहां वाहनों का इतना दबाव रहता है कि अकसर जाम के हालात रहते है।
चालक भी लापरवाह, कई जानें जा चुकी
शहर का प्रमुख चौराहा होने के बावजूद यहां वाहनों को नियंत्रित करने की कोई व्यवस्था नही है। अधिकांश चालक भी यहां यातायात नियमों की पालना नहीं कर रहे है। सभी चालकों को निकलने की जल्दबाजी बनी रहती है, ऐसे में हार्न का तेज शोर, जाम व झगड़े होना आम बात होत गई। पांच साल में यहां एक दर्जन लोगों की जान तक जा चुकी है। इसके बावजूद जनता सबक ले सकी है और ना ही संबंधित विभागों ने गंभीरता दिखाई है।

व्यवसायिक केन्द्र एवं वाहनों का दबाव
बस स्टैंड चौराहा के एक किलोमीटर दायरे में एक दर्जन से अधिक होटलें, धर्मशाला व सामाजिक संगठनों के भवन है। यहां आए दिन आयोजन होने से भीड़ बनी रहती है, वाहनों का दबाव लगातार रहता है। इसी प्रकार बस स्टैंड चौराहा व्यवसायिक केन्द्र होने से दर्जनों व्यवसायिक कॉम्पलेक्स में सैंकड़ों दुकानें व प्रतिष्ठानें है। इतना ही नहीं रोडवेज व निजी बस स्टैंड भी समीप होने से यात्रियों के साथ ही बसों की आवाजाही भी इसी चौराहा पर चौबीस घंटे होती है। इसी चौराहा से शहर के प्रमुख सार्वजनिक स्थल शिवाजी पार्क, लव गार्डन व प्रमुख होस्पिटल भी जुड़े हुए है।

ट्रैफिक लाइट एक बार भी नहीं जली
एक दशक पूर्व चौराहा पर ट्रैफिक व्यवस्था को बेहतर तरीके से नियंत्रित करने के लिए नगर परिषद ने बस स्टैंड चौराहा के साथ ही शहर में सात स्थानों पर ट्रैफिक लाइटें लगाई थी, लेकिन लाखों रुपए खर्च होने के बावजूद यह ट्रैफिक लाइट एक दिन भी व्यवस्थित रूप से नहीं चल सकी। यहां पर ट्रैफिक व्यवस्था भी विशेष मौकों पर ही देखी जाती है।

दिन में कई बार टकराते है वाहन


चौराहा पर कब कौनसा वाहन टकरा जाए कहा नहीं जा सकता, अकसर वाहन टकराने की आवाज आने व लोगों के गिरने से यहां आसपास के व्यापारी व राहगीर मदद के लिए दौड़ते है। कई जानें यहां गई है और घायल होना तो आम है। चौराहा भी अकसर होर्डिग्स व बैनर से घिरा रहता है।
मोतीलाल, फुटवियर व्यवसायी


.कुछ भी ठीक नहीं है
शहर का प्रमुख चौराहा है, लेकिन यहां की हालत किसी भी मायने में ठीक नहीं है। ट्रैफिक लाइटें नहीं है, सर्किल क्षतिग्रस्त है, चार प्रमुख मार्गों का जुड़ाव यहां होने के बावजूद वाहनों के दबाव को कम करने एवं उन्हें नियंत्रित करने की कोई ठोस व्यवस्था नहीं है।
अशोक नागवानी, गारमेंट्स व्यवसायी


तकनीकी चूक को होगा सुधारना

शहर का प्रमुख चौराहा होने के बावजूद तकनीकी एवं नगर नियोजन की दृष्टि से क्षेत्र विकसित नहीं है। बढ़ती आबादी एवं वाहनों के दबाव के अनुरूप चौराहा को विकसित करने की जरूरत है। चौराहा का सुदृढ़ीकरण के साथ ही ट्रैफिक सेंश को भी यहां समझने एवं उसकी के अनुरूप व्यवस्था करने की भी जरूरत है।
सीएस पाराशर, रिटायर्ड अतिरिक्त मुख्य नगर नियोजक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.