कांग्रेस विधायक का रिश्तेदार नहीं आया हाथ, बाउंसरों को जेल भेजा

कोतवाली में मारपीट और राजकार्य में बाधा का मामला

भीलवाड़ा. कोतवाली में घुसकर पुलिसकर्मियों के सामने दो युवकों से मारपीट और राजकार्य में बाधा पहुंचाने व जातिगत अपमानित करने के मामले में चार बाउंसरों को रविवार को अदालत में पेश किया गया। जहां से चारों को जेल भेज दिया गया। उधर, भूमिगत हुए कांग्रेस विधायक के रिश्तेदार बार संचालक राजेन्द्र चौधरी की तलाश में दबिश दी जा रही है।

पुलिस ने बाउंसर संजीवकुमार जाट, राजीव जाट, नवीन राजपूत तथा गुलाबपुरा के नेमीचंद उर्फ निम्बा बलाई को पहले शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार किया था। उनको शनिवार को मारपीट और राजकार्य में बाधा पहुंचाने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया।

गौरतलब है कि बुधवार रात इन्द्रा मार्केट स्थित नंद पैलेस बार में दो पक्षों में झगड़ा हो गया था। कोतवाली पुलिस प्रभात वैष्णव और अर्जुन सिंह को थाने लाई थी। राजेन्द्र और बाउंसर ने कोतवाली में ड्यूटी ऑफिसर के कक्ष में बैठे दोनों युवकों की पिटाई कर दी। इस संबंध में राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित खबरों के बाद सीएमओ से कार्रवाई के निर्देश मिले। इस पर कोतवाली में तैनात सहायक उपनिरीक्षक मदनलाल मीणा की ओर से राजेन्द्र और बाउंसरों के खिलाफ मारपीट कर राजकार्य में बाधा पहुंचाने व एससीएसटी एक्ट में मामला दर्ज किया गया।

jaiprakash singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned