विजयसिंह पथिकनगर में टूटी लाइन, जलापूर्ति के दौरान आ रहा दूषित पानी

शहर के विजयसिंह पथिकनगर में लोग जलापूर्ति के दौरान दूषित पानी पीने को मजबूर हैं। एक-दो दिन की बात नही, एक सप्ताह से जलापूर्ति के दौरान मटमैला पानी आ रहा है। इसे लेकर क्षेत्र के लोगों ने शिकायत भी की। इसके बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हुआ।

By: Akash Mathur

Published: 08 Oct 2021, 11:31 PM IST

भीलवाड़ा. शहर के विजयसिंह पथिकनगर में लोग जलापूर्ति के दौरान दूषित पानी पीने को मजबूर हैं। एक-दो दिन की बात नही, एक सप्ताह से जलापूर्ति के दौरान मटमैला पानी आ रहा है। इसे लेकर क्षेत्र के लोगों ने शिकायत भी की। इसके बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हुआ। बताया जा रहा है कि क्षेत्र में नई लाइन डाले जाने के दौरान पुरानी लाइन टूटने से ऐसे हालात बने हैं। इसे लेकर लोगों में पेयजल के लिए मारामारी की स्थिति हो रही है।

यह है मामला
विजयसिंह पथिकनगर में टंकी से लेकर चम्बल परियोजना की एक नई लाइन डाली गई। एेसे में लाइन डालने के दौरान पुरानी लाइन टूट गई। उसमें गंदा पानी मिल रहा है। पथिकनगर के ए सेक्टर में टूटी लाइन के कारण सप्लाई के दौरान दूषित पानी आ रहा है।

क्या कहते हैं लोग
माणिक्यलाल वर्मा राजकीय महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य बीएल मालवीय ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से यह हालात बने हुए हैं। सप्लाई में गंदा पानी आने से पीने का पानी तो दूर, नियमित दिनचर्या तक के लिए पानी मयस्सर नहीं हो रहा है। पानी के लिए टैंकर मंगवाने पड़ रहे हैं। जलदाय विभाग के अधिकारियों को शिकायत के बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हो पाया है।

प्रेशर से नहीं आ रहा पानी
लोगों का आरोप है कि चम्बल परियोजना आने के बाद भी प्रेशर से पानी नहीं आ रहा है। हौद में उतर कर अभी भी पानी भरना पड़ रहा है। विजयसिंह पथिक नगर इलाका बड़ा होने और आबादी ज्यादा होने के बाद भी पेयजल टंकी छोटी है। इससे पर्याप्त समय तक जलापूर्ति नहीं की जाती।

Akash Mathur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned