भाला फेंकने से छात्र की मौत का मामला: पांच घंटे हंगामे के बाद उठाया शव, स्कूल प्रबंधक और शिक्षकों की गिरफ्तारी की मांग

भाला फेंकने से छात्र की मौत का मामला: पांच घंटे हंगामे के बाद उठाया शव, स्कूल प्रबंधक और शिक्षकों की गिरफ्तारी की मांग

tej narayan | Publish: Sep, 06 2018 10:39:52 PM (IST) Bhilwara, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

बरूंदनी।

कस्बे में संस्कृत विद्यालय में खेलकूद प्रतियोगिता की तैयारी के दौरान भाला लगने से छात्र की मौत के मामले में गुरुवार को परिजनों और ग्रामीणों ने भीलवाड़ा में महात्मा गांधी अस्पताल मोर्चरी के बाहर हंगामा किया। लोगों ने लापरवाही बरतने वाले विद्यालय प्रबंधन और शिक्षकों की गिरफ्तारी नहीं होने तक पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। मोर्चरी के बाहर पांच घण्टे चले विरोध प्रदर्शन के बाद पुलिस अधिकारियों की समझाइश पर परिजन शांत हुए। इसके बाद बीगोद थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों के सुपुर्द किया।

 

जानकारी के अनुसार मुनिकुल ब्रह्मचर्याश्रम वेद संस्थान में खेलकूद प्रतियोगिता की तैयारी चल रही थी। तैयारी के बाद बुधवार शाम छात्रों को शिक्षक दिवस के लिए खेल उपकरण कमरे में रखने भेजा। छात्रों ने कुछ देर में भाला रख देने की बात कहीं। इस दौरान फेंका गया भाला वहां अध्ययनरत छात्र आमलीगढ़ (हमीरगढ़) निवासी सचिन (१५) पुत्र गोपाल शर्मा के सीने में लग गया। इससे उसकी मौत हो गई।

 

बीगोद पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराने गुरुवार सुबह एमजीएच स्थित मोर्चरी पहुंची। मृतक के भाई जसवंत समेत बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। जसवंत ने विद्यालय प्रबंधन मुरलीधर पंचोली, वार्डन भागचंद, शिक्षक मोहनलाल अहीर, हरीश व नारायणलाल के खिलाफ रिपोर्ट दी। इसमें पांचों को सचिन की मौत का जिम्मेदार ठहराया गया। परिजन और लोगों ने प्रबंधन और शिक्षकों को गिरफ्तार नहीं करने तक पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया।

 

बीगोद पुलिस की समझाइश पर भी लोग शांत नहीं हुए। करीब पांच घण्टे हंगामे के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिलीप सैनी वहां पहुंचे। परिजनों से समझाइश कर ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया। उसके बाद मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया गया। शव पहुंचते ही घर में कोहराम मच गया। बड़ी संख्या में ग्रामीण घर के बाहर मौजूद थे। अपराह्न बाद मृतक का गांव में अंतिम संस्कार कर दिया गया। उधर, विद्यालय में सुबह शोकसभा हुई। विद्यालय में रात से ही पुलिस बल तैनात था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned