कलक्टर ने किया अधिकारियों को तलब

कपास खरीद में घपला
कोटड़ी व गंगापुर एसडीएम को तत्काल मौके पर जांच के लिए भेजा
भाजपा ने दिया कलक्टर को ज्ञापन, केन्द्रीय कृषि मंत्री को लिखा पत्र

By: Suresh Jain

Published: 07 Mar 2020, 12:00 PM IST

भीलवाड़ा।
Conflict in buying cotton कपास खरीद में हो रही गड़बड़ी के मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला कलक्टर राजेन्द्र भट्ट ने भारतीय कपास निगम के अधिकारियों को तलब किया है। अधिकारियों से कपास खरीद के मामले में जानकारी लेते हुए तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है। Conflict in buying cotton वही भीलवाड़ा जिले के सहाड़ा व सवाईपुर स्थित जिनिंग फैक्टी में हो रही कपास खरीद के जांच के आदेश उपखण्ड अधिकारियों को दिए है। इस जांच से अधिकारियों तथा वही फैक्ट्री मालिकों में हड़कम्प मच गया है। उधर इस मामले को भाजपा जिलाध्यक्ष लादूलाल तेली ने भी गंभीरता से लेते हुए जिला कलक्टर से शिकायत दर्ज कराते हुए केन्द्रीय कृषि मंत्री को पत्र लिखा तथा इस मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
राजस्थान पत्रिका ने कपास खरीद में हो रही गड़बड़ी को उजागर करने के बाद जिला कलक्टर राजेन्द्र भट्ट ने इस मामले की जांच करने के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) राकेश कुमार को निर्देश दिए। उन्होंने शुक्रवार को कोटड़ी व गंगापुर उपखण्ड अधिकारी को सवाईपुर व सहाड़ा जिनिंग फैक्ट्री में जाकर कपास खरीद की मौका रिपोर्ट करने के निर्देश दिए। इस पर कोटड़ी उपखण्ड अधिकारी सुभाष यादव ने सवाईपुर स्थित मंजीत फाइबर इंडस्ट्रीज का निरीक्षण किया। मौके पर खरीद बन्द मिली इस दौरान भारतीय कपास निगम के अधिकारी व कर्मचारी तक नहीं मिले। ऐसे में किसी के बयान भी नहीं हो सके। यादव के साथ कोटड़ी तहसीलदार हनुत सिंह रावत, गिरदावर राजकुमार नागौरा पटवारी आदेश मीणा, पारस गोधा आदि साथ थे।
सहाड़ा के उपखण्ड अधिकारी विकास पंचोली व सहाड़ा तहसीलदार छगन लाल ने सुराणा कॉटन व जिनिगं फैक्ट्री का निरक्षण किया। यहां भी खरीद बन्द थी। लेकिन भारतीय कपास निगम के अधिकारी बजृमोहन मीणा से कपास खरीद की जानकारी ली। मीणा ने बताया कि किसानों से खरीद का भुगतान सीधे उनके खाते में किया जा रहा है। पंचोली ने बताया कि किसानो को जो पर्ची दी गई तथा निगम में जो खरीद बिल भेजे गए उसके आधार पर इसकी जांच की जाएगी। जिन किसानों ने कपास समर्थन मूल्य में बेचा है उनसे भी जानकारी ली जाएगी की कितनी किलोग्राम कपास बेची तथा किताना भुगतान मिला। फिलहाल मौके पर मिले तथ्य से कलक्टर को अवगत करवा दिया गया है।
केन्द्रीय कृषि मंत्री को लिखा भाजपा ने पत्र
भाजपा जिलाध्यक्ष लादू लाल तेली ने निगम की ओर से कपास खरीद में अनदेखी को लेकर केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर को पत्र लिखा। इसमें बताया गया कि गड़बड़ी के चलते किसानों को समर्थन मूल्य ५४५० रुपए प्रति क्विंटल के भाव नहीं मिल रहे हैं। अधिकारियो व व्यापारियों की मिलाभगत से किसानो से कपास ४६०० से ४८०० रुपए प्रति क्विंटल खरीदा जा रहा है। किसानो को कच्चे बिल दिए जाकर राजस्व चोरी कर रहे है। किसानों से गिरदावरी व जमाबन्दी मांगी जा रही है जबकि 40 क्विंटल तक इन दस्तावेज की आवश्यता नहीं है। भाजपा जिला प्रवक्ता कैलाश सोनी ने बताया कि केन्द्रीय कृषि मंत्री व कलक्टर को दिए पत्र में दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned