समदानी पर अब कांग्रेस में रार, पार्टी दो धडों में

समदानी पर अब कांग्रेस में रार, पार्टी दो धडों में
Congress in rage on Samdani, party in two sections

Narendra Kumar Verma | Updated: 13 Sep 2019, 12:17:24 PM (IST) Bhilwara, Bhilwara, Rajasthan, India

तेरह माह पूर्व भाजपा से निष्कासित नगर परिषद सभापति ललिता समदानी के बुधवार को जयपुर में कांग्रेस में शामिल होने को लेकर गुरुवार को कांग्रेस की स्थानीय राजनीति में घमासान मच गई है। उनके पार्टी में शामिल होने को लेकर कांग्रेस दो धड़ों मेंं बंटी नजर आई। भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरी समदानी के कांग्रेस में शामिल किए जाने से नाराज एक धड़े ने शुक्रवार दोपहर में विशेष बैठक बुलाई है और विरोध प्रदर्शन के संकेत दिए है। समदानी को पार्टी में शामिल के बारे में कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा ने अनभिज्ञता जतात

समदानी पर अब कांग्रेस में रार, पार्टी दो धंडों में
भीलवाड़ा। तेरह माह पूर्व भाजपा से निष्कासित नगर परिषद सभापति ललिता समदानी के बुधवार को जयपुर में कांग्रेस में शामिल होने को लेकर गुरुवार को कांग्रेस की स्थानीय राजनीति में घमासान मच गई है। उनके पार्टी में शामिल होने को लेकर कांग्रेस दो धड़ों मेंं बंटी नजर आई। भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरी समदानी के कांग्रेस में शामिल किए जाने से नाराज एक धड़े ने शुक्रवार दोपहर में विशेष बैठक बुलाई है और विरोध प्रदर्शन के संकेत दिए है। समदानी को पार्टी में शामिल के बारे में कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा ने अनभिज्ञता जताते हुए कहाकि उन्हें इस बारे में अखबार से पता चला है। दूसरी तरफ कांग्रेस में शामिल होने के चंद घटे बाद ही भाजपा ने भी नगर परिषद के कामकाज को लेकर हल्लाबोल दिया है। गुरुवार को उपसभापति मुकेश शर्मा की अगुवाई में भाजपा के ३४ पार्षदों ने विरोध प्रदर्शन कर नगर परिषद के कामकाज पर विरोध जताया। इधर, समदानी के कांग्रेस में शामिल होने पर एनएसयूआई ने खुशी जाहिर करते हुए गुरुवार सुबह नगर परिषद में आतिशबाजी की, वही कांग्रेस के अग्रिम संगठनों के कई पदाधिकारी व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि भी समदानी को बधाई देने परिषद में पहुंचे।

भाजपा से निष्कासित ललिता समदानी के जयपुर में बुधवार को कांग्रेस में शामिल होने के बाद जिले में राजनीतिक सरगर्मियां गरमा गई है। खास कर कांग्रेस में समदानी के शामिल होने को लेकर पार्टी गुरुवार को जिला मुख्यालय पर दो धड़ों में बंटी नजर आई। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता समदानी को कांग्रस में शामिल किए जाने से ना खुश है, हालांकि उन्होंने चुप्पी साध रखी है, लेकिन वो नाम नहीं छापने की शर्त पर बताते है कि जिले में कांग्रेस को मजबूत करने के लिए अब उनकी दिक्कतें और बढ़ जाएगी और जिले में जिस प्रकार से गुटबाजी बढ़ती जा रही है, वो ठीक नहीं है।
...................
कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा से पत्रिका ने समदानी के कांग्रेस में शामिल किए जाने के बारे में सवाल किए तो उनका ये कहना था
...........
सवाल: समदानी के कांग्रेस में शामिल किए जाने की आप को जानकारी थी
जवाब: सभापति के कांग्रेस में शामिल किए की खबर उन्हें गुरुवार सुबह समाचार पत्रों के जरिए मिली।
सवाल: प्रदेश आला कमान ने समदानी को पार्टी में शामिल किए जाने से पहले आपसे रायशुमारी की
जवाब: इस बारे में प्रदेश से उनकी पहले किसी भी स्तर पर बातचीत नहीं हुई
सवाल: सभापति पर लगे भ्रष्टाचारों के आरोपों को लेकर कांग्रेस ने पहले हल्ला बोला था या नहीं
जवाब: कांग्रेस ने सभापति के खिलाफ हाल ही नगर परिषद में धरना प्रदर्शन देते हुए विरोध जताया था
सवाल: समदानी अब कांग्रेस से सभापति है, इन पर लगे आरोपों को लेकर क्या कहेंगे
जवाब: परिवाद व प्रकरण कानूनी दायरे में है, सम्बंधित जांच एजेंसी काम करेगी
सवाल: प्रदेश की तरफ से समदानी को कांग्रेस में शामिल किए जाने के कोई आदेश मिलें है क्या
जवाब: प्रदेश ने जो निर्णय लिया है, वो सर्वोपरि है, निर्णय की प्रति अभी तक नहीं आई है
.........................
कमेटियां तक बनाई थी
पूर्व सभापति मधु जाजू बताती है कि २३ साल पहले वो भी भाजपा से कांग्रेस में आई थी, उनके खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिरने पर उन्हें ३ अगस्त २०१८ को भाजपा से निष्कासित किया गया। लेकिन उन्होंने पांच साल पूरा किया और बोर्ड की सभी कमेटियां गठित कर पार्षदों को साथ लेकर कार्य किया था।
.......................
सभापति बोली, अब तो आठ के रहेंगे ठाठ
भीलवाड़ा. सभापति ललिता समदानी ने गुरुवार को बैतोर कांग्रेस सभापति के रूप में काम किया। उन्हें बधाई देने वालों का दिनभर तांता लगा रहा। कांग्रेस के अग्रिम संगठनों के साथ ही सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी भी उन्हें बधाई देने पहुंचे। उन्हें खाकी की टोपी पहनाई और कहा कि अब वो रियल कांग्रेसी है। पत्रिका से बातचीत में उन्होंने कहा कि भाजपा में महिलाओं नेताओं को आगे बढऩे का मौका नहीं दिया जाता है, भाजपा की रीति व नीतियों में बहुत अंतर है, सभापति पद के पहले के तीन साल के कार्यकाल पर उन पर भाजपा की तरफ से काफी दबाव था और कई गलत कार्य करवाने का भी प्रयास हुआ। उन्होंने अपने ग्यारह माह के शेष कार्यकाल के दौरान किए जाने वाले कार्य की योजना बताई। उन्होंने ये भी संकेत दिया कि कांग्रेस के आठ पार्षद है, एेसे में आठ के ठाठ अलग ही होते है। भाजपा के अन्य पार्षदों के उनके साथ जुडऩे के सवाल पर उनका कहना था कि अभी तो शुरूआत है।
.................................
ग्यारह माह में ये काम प्रमुखता से करेगी सभापति
- नगर परिषद का उपनगर सांगानेर स्थित कम्पोस्ट प्लांट तैयार है। इसका उद्घाटन जल्द ही किया जाएगा।-निराश्रित मवेशियों से शहर के प्रमुख मार्ग व सार्वजनिक स्थलों को मुुक्त किया जाएगा
- चारा डिपो का स्थान तय होगा और गोशालाओं की मदद ली जाएगी- हरणी महादेव मंदिर से चामुंडा माता मंदिर के बीच रोपवे का कार्य जल्द पूर्ण होगा।
- आजाद चौक व नगर परिषद स्टेडियम में भूमिगत पार्किग का कार्य न्याय सम्मत कराया जाएगा
.................................................
भाजपा पार्षदों का विरोध प्रदर्शन
नगर परिषद के उप सभापति मुकेश शर्मा की अगुवाई में ३४ पार्षद गुरुवार सुबह कलक्ट्रेट के बाहर पुर मसले को लेकर आयोजित भाजपा के धरना स्थल से नगर परिषद पहुंचे। यहां २३ अगस्त २०१९ को आयुक्त को दिए गए ग्यारह सूत्रीय ज्ञापन पर किसी भी स्तर की कार्यवाही नहीं होने का आरोप लगाते हुए सभापति व आयुक्त के खिलाफ नारेबाजी की। इसी दौरान एनएसयूआई के कार्यकर्ता भी आ गए और सभापति के समर्थन में नारे लगाते हुए आतिशबाजी करने लगे। एनएसयूआई व भाजपा पार्षदों की तरफ से हो रही नारेबाजा को देखते हुए कोतवाली पुलिस सतर्क हो गई। समूचे नगर परिषद को पुलिस जाप्ते ने घेर लिया और दोनों पक्षों के बीच संभावित टकराव की स्थिति को टाल दिया।
...........................
डूबती नाव में हुई सवार
उपसभापति मुकेश शर्मा ने बताया कि आयुक्त दुर्गा कुमारी को ग्यारह सूत्रिय मांग पत्र को लेकर ज्ञापन देना था, लेकिन आयुक्त के नहीं होने पर अन्य सक्षम अधिकारी को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में शहर की मूलभूत समस्याओं के समाधान की मांग उठाई गई थी। समस्याओं को समाधान नहीं किया गया तो जन आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि नगर परिषद में सुनवाई करने वाला कोई नहीं है। समदानी के साथ भाजपा के कुछ पार्षदों के कांग्रेस में शामिल होने की संभावना के सवाल पर शर्मा ने कहा कि भाजपा के सभी पार्षद मजबूत एवं पार्टी के प्रति निष्ठावान है। वैसे भी कांग्रेस की स्थिति डूबती नाव के समान है

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned