कोरोना टीका: 5 दिन में 65 डोज खराब

48 घंटे तक ख रहे सुरक्षित

By: Suresh Jain

Published: 24 Jan 2021, 03:47 PM IST

भीलवाड़ा।
कोरोना टीका अब तक तीन दिन लग चुके हैं। पंजीकृत चिकित्साकर्मियों के नहीं आने के कारण अब तक जिले में वैक्सीन के ६५ डोज खराब हो चुके हैं। जिले में पंजीकृत १८३९ कार्मिकों को पहले तीन दिन में वैक्सीन लगवानी थी। इनमें डाक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ, आंगनबाड़ी कार्मिक शामिल थे, लेकिन ३७९ हेल्थ वर्कर नहीं आए। इस कारण 16 जनवरी को लॉचिंग के दिन १३, 17 जनवरी को ८ और 18 जनवरी को १९, २२ को ९ तथा २३ को १६ डोज खराब हुए है।
जिले में इन पांच दिन में कुल २९८५ स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया। ३०५ वायल काम में ली, जिनमें ७ वायल खराब हो गई। भीलवाड़ा में ७९.३९ प्रतिशत टीके लगाए जा रहे हैं। खराब होने का आंकड़ा ०.०२ प्रतिशत है। इधर, शुक्रवार को भीलवाड़ा, जहाजपुर, आसीन्द, बिजौलियां, बागोर तथा कोशिथल में टीके लगाए जाएंगे।
शरीर में सुरक्षा कवच बनता
आरसीएचओ डॉ. संजीव शर्मा के अनुसार दवा की तरह वैक्सीन के भी साइड-इफेक्ट हैं। वैक्सीन लगने के बाद हल्के साइड इफेक्ट होते हैं। इसमें हल्का दर्द, सूजन या इजेक्शन की जगह त्वचा का लाल होना, बुखार, ठंड लगना, थकावट आदि जैसे लक्षण शामिल हैं। ये समान्य लक्षण हैं कि शरीर वायरस के खिलाफ सुरक्षा कवच तैयार कर रहा है। ये कुछ दिन में ठीक भी हो जाते हैं।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned