पुर पातोला महादेव में 85 बीघा जमीन से परिषद ने हटाया अतिक्रमण

दो जने हुए बेहोश, अस्पताल में कराया भर्ती, 35 परिवारों ने बना रखी थी गुमटिया व झोपड़े
आईडीएसएमटी योजना के तहत बनी थी आवासीय योजना

By: Suresh Jain

Published: 11 Sep 2021, 09:59 AM IST

भीलवाड़ा।
प्रशासन शहरों के संग अभियान से ठीक पहले नगर परिषद ने शुक्रवार को पुर के पातोला महादेव स्थित आईडीएसएमटी (इंटेग्रेटिड डवलपमेंट ऑफ स्माल एंड मीडियम टाउन) आवासीय योजना में हो रहे अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया। करीब साढ़े तीन घंटे चली कार्रवाई में ३५ से अधिक परिवारों को हटाया गया। इस कार्रवाई के दौरान एक युवक व महिला बेहोश हो गए। दोनो को उपचार के लिए महात्मा गांधी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। यहां उनकी हालत अब ठीक बताई जा रही है।
नगर परिषद के सभापति राकेश पाठक ने बताया कि पुर के पातोला महादेव में कई सालों पहले आईडीएसएमटी योजना के तहत आवासीय योजना बनाई गई थी। इसके लिए करीब ८५ बीघा जमीन पर ६५२ से अधिक भूखण्ड बनाए गए थे। इस जमीन पर तीन दर्जन से अधिक लोगों ने अतिक्रमण कर लिया था। इसका सर्वे करवाने के बाद शुक्रवार को अधिशासी अभियन्ता अखेराम बडोदिया व सूर्यप्रकाश संचेती के नेतृत्व में टीम बनाकर परिषद के अधिकारियों को मौके पर भेजा और अतिक्रमण को हटाया। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई सुबह ९.३० बजे शुरू कर दी गई, जो दोपहर १ बजे तक चली। इस कार्रवाई के दौरान एक महिला और युवक तनाव में आने के बाद बेहोश हो गए।
इससे पहले कार्रवाई के दौरान बेदखल किए गए लोगों ने कड़ा विरोध किया। महिला पुलिसकर्मियों को विरोध कर रही महिलाओं को उठाकर ले जाना पड़ा। पाठक ने बताया कि लोगों के सुबह के भोजन की व्यवस्था इन्दिरा रसोई से की गई थी।
कार्रवाई के दौरान नगर परिषद आयुक्त दुर्गा कुमारी, तहसीलदार लालाराम यादव, पुर थानाधिकारी गजराज सिंह चौधरी मय जाब्ते के साथ मौके पर उपस्थित रहे। अतिक्रमण हटाने के दौरान परिषद का लवाजमा भी मौजूद रहा। मौके पर ४ जेसीबी, २ लोडर, ४ डम्पर तथा ४ ट्रेक्टर ट्रोली सामान हटाने में लगाए गए थे। वहां अवैध रूप से संचालित हो रहे ईट भट्टों को भी हटा दिया गया। वहां पर लोगों ने धार्मिक स्थल भी बना रखे है। उन्हें अभी नहीं हटाया गया है।
धार्मिक स्थल नहीं तोडऩे की मांग
कांग्रेस के सहवृत पार्षद योगेश सोनी ने नगरपरिषद की से कार्रवाई के नाम पर गरीबों को हटाने का क विरोध किया। सोनी ने कहा कि नगर परिषद के सामने अवैध कॉम्पलेक्स खड़े है उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है। सोनी ने धार्मिक स्थलों को अतिक्रमण के नाम पर नहीं हटाने की मांग की है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned