बजरी पर कोर्ट की रोक, हर निर्माण स्थल पर मिलेगा स्टॉक

बड़ा सवाल: प्रतिबंध के बावजूद आखिर कहां से आ रही रेत?
जिले में कोठारी व बनास के सीने में घोंप रहे खनन के लिए खंजर

By: Suresh Jain

Updated: 11 Jun 2021, 08:30 AM IST

भीलवाड़ा।
जिले में बजरी का खेल बेखौफ जारी है। जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे या जान बूझकर अनजान हैं। नदियों से बजरी रातभर निकलती है। दिन में इसे ठिकाने लगा रहे। हाई-वे पर बजरी के ट्रोले निकल रहे जिन्हें अब कोई नहीं टोकता। ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में बजरी भरकर ठिकानों पर पहुंचाने का सिलसिला तो आम हो गया। दिनभर ट्रैक्टरों में बजरी भरकर निर्माण स्थलों पर पहुंचा रहे। अकेले भीलवाड़ा शहर में ही सैकड़ों निर्माण कार्य चल रहे हैं। इनमें मुंह मांगे दामों पर बजरी पहुंच रही। पत्रिका टीम ने पड़ताल की तो पाया कि सरकार की बिन सांठगांठ यह खेल नहीं चल सकता। टीम को कई जगह बजरी कारोबार से जुड़े लोगों से सुनने को मिला कि कहीं भी चले जाओ कोई नहीं आएगा।
यहां ज्यादा खनन
हमीरगढ़, मंगरोप, जहाजपुर क्षेत्र में बजरी का अवैध कारोबार धड़ल्ले से हो रहा। यहां जिले के अलावा अन्य राज्यों में बनास नदी से ट्रैक्टर-ट्रॉली डम्पर में बजरी भरकर ला रहे। अवैध बजरी लेकर वाहन मध्यप्रदेश तक पहुंच रहे।
दिन में निकल रहे वाहन
बनास नदी क्षेत्र में बजरी का अवैध परिवहन होता दिखा। पहले रात के अंधेरे में बजरी का परिवहन होता था, लेकिन लॉकडाउन में तो दिन के उजाले में भी इन्हें कोई नहीं रोक रहा। अब अनलॉक होने के बाद हालात और विकट हो गए।
मानसून से पहले स्टॉक
हमीरगढ़, मंगरोप, जहाजपुर, कोटड़ी आदि क्षेत्र में बनास से अवैध रूप से बजरी निकाली जा रही है। कोठारी नदी में काफी दिनों से बजरी का खनन हो रहा है। इसमें प्रशासन की मिलीभगत साफ दिख रही। यहां माफिया ने आस-पास ही बजरी के स्टॉक जमा कर रखे हैं। मनमर्जी के दामों में बेच रहे हैं। बरसात को देखते माफिया बजरी का स्टॉक करने में जुटे हैं।
थानों के आगे से गुजर रहे वाहन
रात में तेज गति से ट्रैक्टर-ट्रॉली दौड़ाने से ग्रामीणों में हादसों की आशंका बनी रहने लग गई। पुलिस, वन व खनि विभाग के अधिकारियों ने आंखें मूंद ली। अवैध कार्य में लगे ट्रैक्टर रात-रातभर दौड़ रहे। जिले के प्रमुख थानों के सामने से बजरी भरकर वाहन चालक निकल रहे, यहां इन्हें कोई नहीं रोकता। पुलिस और खनि विभाग अब इन्हें नहीं टोकता।
---
कोरोना लॉकडाउन के दौरान भी कई ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़कर उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। जुर्माना भी वसूला गया है।
एलएन कुमावत, खनिज अभियन्ता, भीलवाड़ा

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned