scriptcrows are not seen around the house in shraddha paksha | श्राद्ध पक्ष में घर के आस-पास नजर नहीं आते कौए | Patrika News

श्राद्ध पक्ष में घर के आस-पास नजर नहीं आते कौए

केवल ओवरब्रिज व जिला कलक्ट्रेट के सामने आते नजर

भीलवाड़ा

Published: September 14, 2022 07:45:53 am

भीलवाड़ा. हिंदू धर्म में श्राद्ध पक्ष का विशेष महत्व माना गया हैं। श्राद्ध पक्ष के तीन दिन हो चुके है। इन दिनों पुत्र व पौत्र अपने पितरों का श्राद्ध कर रहे है। मान्यता है कि पितरों के निमित्त भोजन बनाकर कौए, गाय व ब्राह्मण को कराया जाता है।

श्राद्ध पक्ष में घर के आस-पास नजर नहीं आते कौए
श्राद्ध पक्ष में घर के आस-पास नजर नहीं आते कौए

पिछले कुछ सालों में कौए की संख्या में कमी आने से लोगों के सामने उन्हें भोजन देने की समस्या होने लगी है। शहर के ओवरब्रिज व जिला कलक्ट्रेट के सामने स्थित पेड़ों पर ही इनका ठिकाना रहता है। कौए घरों के आस-पास नजर नहीं आ रहे है। हालांकि लोग अपने मकान की छत पर भोजन रखकर कौए को आवाज लगाते है, लेकिन नजर नहीं आते है।
कम हो गई कौवों की संख्या
पर्यावरण प्रेमी बाबू लाल जाजू ने बताया कि पहले आबादी में पेड़ बहुत होेते थे, यहां कौए के बैठने का ठिकाना होता था, इसलिए कौए आसानी से मिल जाते थे, लेकिन अब आबादी में पेड कट गए हैं, बड़ी- बड़ी इमारतें बन गई हैं, इसलिए ये जंगल की ओर रुख कर गए हैं। इनको खाने के लिए भी आबादी में कुछ नहीं मिलता है। पेस्टीसाइड खाने से मनुष्य के साथ जीव जंतु के जीवन पर भी संकट आ गया हैं। हमारा इको सिस्टम गडबडा गया हैं। पेड़ पौधों व खेतों में फसल उगाने के लिए पेस्टीसाइड का प्रयोग ज्यादा होने से जीव मरने लगे हैं। यह भोजन खाने वाले जीवों के मरने के बाद जब इसे गिद्ध व कौवे खाते हैं तो उनकी भी मृत्यु हो जाती है। यहीं कारण है कि धीरे- धीरे कौए लुप्त होते जा रहे हैं।
संदेशवाहक है कौए
पंडित अशोक व्यास ने बताया कि गरूड पुराण के अनुसार कौए को यमराज का संदेश वाहक बताया गया है। पूर्वजों को अन्न व जल कौए के माध्यम से ही पहुंचता है। कौए को भोजन कराना शुभ माना गया है। शास्त्रों के अनुसार यमराज ने कौवे को वरदान दिया था कि तुम्हें दिया गया भोजन पूर्वजों की आत्मा को शांति देगा, तब से ही पितरों के निमित्त कौए को भोजन दिया जाने लगा।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Thackeray Vs Shinde: उद्धव ठाकरे गुट की शिवसेना करेगी शिवाजी पार्क में दशहरा रैली, हाईकोर्ट ने दी इजाजत, कहा- BMC ने कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग कियाAnkita Bhandari Murder Case: 5 दिन से लापता रिजॉर्ट रिसेप्शनिस्ट के मर्डर का हुआ खुलासा, भाजपा नेता का बेटा निकला मुख्य आरोपीपंजाब में गैंगस्टरों की ऑनलाइन भर्ती, बंबीहा गैंग ने फेसबुक पर डाली डिटेल्स, वाट्सएप नंबर भी किया जारीPayCM Poster: कांग्रेस के पेसीएम पोस्टर अभियान को लेकर बढ़ा विवाद, अखिल अय्यर ने दी कानूनी कार्रवाई की धमकीकनाडा में बढ़ी भारत विरोधी गतिविधियां, सरकार ने एडवाइजरी जारी कर वहां जाने वाले भारतीयों को किया अलर्टVideo: दिल्ली में लगातार दूसरे दिन मेहरबान रहा मानसून, नोएडा में 24 सितंबर को बंद रहेंगे स्कूलदिल्ली के उपराज्यपाल ने 5 AAP नेताओं पर ठोका मानहानि का केस, दो करोड़ रुपए की हर्जाने की मांगMaharashtra: शिंदे गुट को बड़ा झटका, बॉम्बे हाईकोर्ट ने दशहरा रैली को लेकर दायर याचिका को किया खारिज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.