दिगम्बर समाज मनाएगा क्षमावाणी पर्व

नहीं होगा सामूहिक कार्यक्रम

By: Suresh Jain

Published: 02 Sep 2020, 08:35 PM IST

भीलवाड़ा।
दिगम्बर जैन समाज के दशलक्षण के समापन पर गुरुवार को क्षमावाणी पर्व मनाया जाएगा। कोरोना के चलते सामूहिक कार्यक्रम नहीं होंगे। जैन मंदिरों में सुबह क्षमावाणी के कलश होंगे। उसके बाद एक दूसरे से समाज के लोग साल भर में हुए गलतियों के लिए क्षमा याचना करेंगे।
आमलियों के बारी स्थित पुराने शहर के कलश इस बार हर मंदिर में अलग-अलग होंगे। ५-५ श्रावकों की उपस्थिति में सभी मंदिरों में अलग-अलग कलश होंगे। सुबह पौने नौ बजे बिचले मंदिर, 9.15 पर बड़े मंदिर तथा 9.30 बजे आमलियो ंकी बारी में कलश होंगे। बाद में समाजजन श्रीजी के समक्ष एक दूसरे से क्षमा याचना करेंगे। पंचमी से एकम तक चलने वाले धार्मिक कार्यक्रम क्षमावणी के साथ समाप्त हो जाएंगे। कई साधु-संतों ने ऑनलाइन प्रवचन और पूजा-पाठ कराए। आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष नरेश गोधा ने बताया कि क्षमावणी के दिन पांच-सात लोग अभिषेक व शान्तिधारा के बाद सुबह साढ़े सात बजे क्षमावाणी के कलश करेंगे। फिर श्रीजी से क्षमावाणी की जाएगी।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned