scriptRajasthan News : कचरे से अटे नाले, मानसून से पहले सफाई नहीं हुई तो मुसीबत तय | Drains are clogged with garbage, if not cleaned before monsoon then trouble is certain | Patrika News
भीलवाड़ा

Rajasthan News : कचरे से अटे नाले, मानसून से पहले सफाई नहीं हुई तो मुसीबत तय

मानसून आने में महज एक माह बचा है लेकिन शहर में नालों की सफाई को लेकर नगर परिषद की नींद अभी नहीं टूटी है।

भीलवाड़ाMay 25, 2024 / 02:31 pm

Supriya Rani

भीलवाड़ा. मानसून आने में महज एक माह बचा है लेकिन शहर में नालों की सफाई को लेकर नगर परिषद की नींद अभी नहीं टूटी है। मानसून से पहले नाले साफ नहीं किए तो कई कॉलोनियों के बारिश में जलमग्न होने का अंदेशा है। हालांकि परिषद सफाई कार्य जल्द शुरू करने का दावा कर रही है।

परिषद मानसून से पहले हर साल सफाई कराती है। इसके लिए एक से डेढ़ करोड़ रुपया खर्च करती है। इस बार परिषद एक करोड़ रुपए में सफाई का ठेका देने जा रही है। नालों को दो भाग में बांटा है। छोटे नाले व शहर के सभी बड़े नालों की सफाई के लिए अलग-अलग टैंडर किए हैं। शहर में बरसाती व छोटे व बड़े नाले करीब 145 है। वहीं करीब डेढ़ सौ अन्य नाले हैं। शहर के प्रमुख नाले कचरे से अटे हैं।

शास्त्रीनगर : चार साल से सफाई नहीं

शहर का सबसे बड़ा नाला शास्त्रीनगर क्षेत्र में है। यह रामधाम से शुरू होकर जिंदल पंपिग स्टेशन जाता है।इस नाले की चार साल से सफाई नहीं हुई है। क्षेत्रवासी नितिन छाजेड़ का कहना है कि सफाई के लिए कई बार परिषद से मांग की लेकिन फौरी तौर पर सफाई कर छोड़ दिया जाता है। हर साल बारिश में शास्त्रीनगर क्षेत्र में पानी भरने की एक वजह इस नाले की सफाई नहीं होना है।

पांच माह चलेगी सफाई

इस बार नालों की सफाई कर्मचारी लगाकर करवाएंगे ताकि मलबा आसानी से निकाला जा सके। कर्मचारी नाले में उतरकर सफाई करेंगे। नाले की सफाई का काम पांच माह चलेगा। भुगतान हर माह 20-20 प्रतिशत के आधार पर ही होगा। ऐसा पहली बार किया जा रहा है।– हेमाराम चौधरी, आयुक्त नगर परिषद

अतिक्रमण बढ़ा रहा परेशानी

शहर में सेवा सदन रोड, विजयसिंह पथिक नगर समेत विभिन्न स्थानों पर कई छोटे नालों पर अतिक्रमण है। इन्हें हटाए बिना नालों की सफाई संभव नहीं है। मकान, दुकानों के बाहर नाले, नालियों पर भी अतिक्रमण है। नालों से पट्टियां हटाकर सफाई नहीं की गई तो बरसात में परेशानी आएगी।

नालों में जमा कचरा

शहर के रोडवेज बस स्टैंड चौराहा का नाला कचरे से अटा है। नाले में पाइप होने से यहां सफाई ढंग से नहीं हो पाती। सांगानेर पेट्रोल पप के सामने, कांवाखेड़ा एफसीआई रोड का नाला भी कचरे से जाम है। शहर के प्रमुख पांडू का नाले की सफाई भी नहीं हुई है।

Hindi News/ Bhilwara / Rajasthan News : कचरे से अटे नाले, मानसून से पहले सफाई नहीं हुई तो मुसीबत तय

ट्रेंडिंग वीडियो