scriptDrizzle from morning till night, melting shivered at night | सुबह से रात तक रिमझिम, सर्दी बढ़ी, रात को गलन ने कंपकपाया | Patrika News

सुबह से रात तक रिमझिम, सर्दी बढ़ी, रात को गलन ने कंपकपाया

फसलों पर बरसा अमृत, चना को होगा फायदा

भीलवाड़ा

Published: November 18, 2021 09:50:54 pm

भीलवाड़ा।
जिले में सुबह शुरू हुई बरसात देर रात तक जारी रही। इससे जहां मौसम में सर्दी बढ़ गई, वहीं रात को गलन से लोगों के हाड़ कांप उठे। दिन भर हुई मावठ से रबी की फसलों को लाभ पहुंचेगा। सरसों और चने की फसल को सबसे ज्यादा फायदा है। मावठ से जहां फसलों को पानी मिल गया, वहीं किसानों का सिंचाई में लगने वाला समय भी बच गया। दिनभर बारिश से जहां आमजन प्रभावित हुआ, वहीं शादी और अन्य मांगलिक आयोजनों में भी विघ्न पड़ा। जिले में अधिकतम तापमान 23 एवं न्यूनतम 1३ डिग्री रहा। आगामी तीन दिन तक मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार सर्दी के साथ ही मावठ के आसार है।
गुरूवार सुबह सूर्य बादलों की ओट में छिपा रहा। धूप नहीं निकलने से सुबह से ही सर्दी बढ़ गई। सुबह ९ बजे से रिमझिम बरसात को दौर शुरू हुआ, जो देर रात तक जारी था। शाम को जल्दी कोहरा छा गया और गलन बढ़ गई। अचानक गलन बढ़ने से लोगों ने गर्म कपड़े, रजाई और कम्बल निकाल लिए। दिन भर बाजार सूने रहे। केवल चाय, कचोरी, नमकीन की दुकानों पर भीड़ देखी गई।
कृषि विभाग के उप निदेशक रामपाल खटीक ने बताया कि इस समय सरसों, चना व जौ की फसल खेतों में खड़ी हुई है। इस समय मावठ फसलों के लिए अमृत है। जिन फसलों में रोग लग गया था, वह भी बारिश के पानी से धुल गया। इस वर्ष बरसात कम होने से जमीन को नमी की आवश्यकता है। बारानी चने एवं मसूर में मावठ का विशेष फायदा होगा। बारिश कम होने के कारण इस बार तालाब एवं बांधों में पानी की कमी रही। कई तालाब व बंधा सूखे हैं। ऐसे में सिंचाई के लिए कई जगह पानी की कमी महसूस की जा रही थी। मावठ से पानी की कमी एवं किसान का समय बचने के आसार बने हैं। इस मावठ से रबी की फसलों में २५ फीसदी तक उत्पादन बढ़ सकता है।
ये होंगे फायदे
- जमीन में बढ़ेगी नमी
- फसलों की ग्रोथ बढ़ेगी
- फसलों का रोग धुलेगा
- उत्पादन में होगी बढ़ोतरी
- पाला पडऩे की संभावना कम
सुबह से रात तक रिमझिम, सर्दी बढ़ी, रात को गलन ने कंपकपाया
सुबह से रात तक रिमझिम, सर्दी बढ़ी, रात को गलन ने कंपकपाया

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कम उम्र में ही दौलत शोहरत हासिल कर लेते हैं इन 4 राशियों के लोग, होते हैं मेहनतीबाघिन के हमले से वाइल्ड बोर ढेर, देखते रहे गए पर्यटक, देखें टाइगर के शिकार का लाइव वीडियोइन 4 राशि की लड़कियों का हर जगह रहता है दबदबा, हर किसी पर पड़ती हैं भारीआनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा, जुगाड़ जीप बनाने वाले शख्स को बदले में दी नई Mahindra BoleroFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशदेश में धूम मचाने आ रही हैं Maruti की ये शानदार CNG कारें, हैचबैक से लेकर SUV जैसी गाड़ियां शामिल

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवारेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदUP Assembly Elections 2022 : सपा सांसद आजम खां जेल से ही करेंगे नामांकन, कोर्ट ने दी अनुमतिकोटा में रिवरफ्रंट पर लगेगी विश्व की सबसे बड़ी घंटी, वजन होगा 57 हजार किलोक्या योगी आदित्यनाथ फिर बनेंगे यूपी के मुख्यमंत्री? जानिए क्या कहती हैं ज्योतिषीयों की भविष्यवाणीकांग्रेस युक्त भाजपा! कविता के जरिए शशि थरूर ने पार्टी छोड़ रहे नेताओं और बीजेपी पर कसा तंजRPN Singh के पार्टी छोड़ने पर बोले CM गहलोत, आने वालों का स्वागत तो जाने वालों का भी स्वागत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.