लाल फीतों में बंद नहीं रहेगी फाइलें, हर काम की समय सीमा तय

आमजन की विभिन्न कार्यों से जुड़ी फाइलों को निस्तारित करने की बजाय लालफीते तले दबाए रखना अब आसान नहीं होगा। स्थानीय निकाय विभाग ने नगरीय निकायों द्वारा

By: Nilesh Kumar Kathed

Updated: 11 Sep 2017, 11:57 PM IST

भीलवाड़ा।

आमजन की विभिन्न कार्यों से जुड़ी फाइलों को निस्तारित करने की बजाय लालफीते तले दबाए रखना अब आसान नहीं होगा। स्थानीय निकाय विभाग ने नगरीय निकायों द्वारा किए जाने वाले विभिन्न कार्यों के समयबद्ध निस्तारण के लिए अधिकतम समय सीमा तय कर दी है। विभाग के निदेशक पवन अरोड़ा ने 8 सितम्बर को सभी नगरीय निकायों को आदेश जारी कर प्रकरणों का तय समय सीमा में निस्तारण किए जाने के निर्देश दिए।

 

READ: जहाजपुर विधायक ने कलक्टर से की गिरदावरी कराने की मांग  

 

किस काम के लिए कितना वक्त-शहरी क्षेत्र में कृषि भूमि के गैर कृषि भूमि में परिवर्तन एवं शहरी क्षेत्र में भू-उपयोग परिवर्तन सम्बन्धी फाइले अधिकतम 60 दिन में निस्तारित करनी होगी। -आवासीय एवं संस्थानिक उपयोग के लिए 500 वर्ग मीटर, व्यावसायिक उपयोग के लिए 225 वर्ग मीटर भूमि तक बाइलॉज के अनुसार बिल्डिंग प्लान अप्रूवल की फाइल पर 15 दिन की अधिकतम सीमा में फैसला करना होगा।

- भूखण्ड क्षेत्र 500 से 1000 वर्ग मीटर तक के मामलों में 21 दिन एवं 1000 वर्ग मीटर से अधिक के मामलों में 30 दिन में निपटारा होगा।

- राजस्थान टॉउनशिप पॉलिसी के तहत लेआउट प्लान अप्रवूल एवं भूमि आवंटन पॉलिसी-2015 के तहत विभिन्न कार्यों के लिए भूमि आवंटन सम्बन्धी फाइलों पर अधिकतम 45 दिन में निस्तारण होगा।

- शहरी क्षेत्र में प्लाट पर पुन:निर्माण सम्बन्धी मामलों में 30 दिन में एवं लीज डीड पट्टा जारी करने के मामले में अधिकतम 15 दिन में निपटारा करना होगा।

-कार्यपूर्णता प्रमाणपत्र भी अधिकतम 30 दिन में जारी करना होगा। अधिकतम तय सीमा में प्रकरणों का निपटारा नहीं होने पर सम्बन्धित अधिकारी व कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई हो सकेगी। एक सप्ताह में निपटाने होंगे ये कामनगरीय निकायों में अब एेसे काम भी है, जिनमें सरकार के आदेश के तहत एक सप्ताह या उससे कम अवधि में निपटारा करना होगा। लीज राशि जमा करने एवं लीज मुक्ति प्रमाणपत्र जारी एवं नाम बदलाने सम्बन्धी मामलों में सात दिन में काम करना होगा। दमकल विभाग से एनओसी जारी करने,नगरीय निकाय अधिनियम के तहत व्यापार लाइसेंस जारी करने जैसे कार्य भी अधिकतम 7 दिन में होंगे। शहरी विकास कर जमा करने एवं नल कनेक्शन के मामलों में अधिकतम तीन दिन में काम करना होगा।

Nilesh Kumar Kathed
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned