अच्छी खबर, भीलवाड़ा में सीवरेज के कनेक्शन घरों से जुड़ेंगे

सीवरेज परियोजना से उधड़ी शहर की सड़कों से परेशानी से जुझ रहे शहरी बाशिन्दों के लिए राहत की खबर यह है कि सीवरेज पाइप लाइन बिछाने के साथ ही घरों में कनेक्शन जोडऩे का मई-जून में शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने इस संदर्भ में जिला प्रशासन को भी सीवरेज पाइप लाइन बिछाने का तय समय में पूरा कराने के लिए पाबंद किया है। शहर में अभी 280 किलोमीटर की दूरी में सीवरेज पाइप लाइन बिछ चुकी है।

By: Narendra Kumar Verma

Published: 17 Feb 2021, 12:17 PM IST

भीलवाड़ा । सीवरेज परियोजना से उधड़ी शहर की सड़कों से परेशानी से जुझ रहे शहरी बाशिन्दों के लिए राहत की खबर यह है कि सीवरेज पाइप लाइन बिछाने के साथ ही घरों में कनेक्शन जोडऩे का मई-जून में शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने इस संदर्भ में जिला प्रशासन को भी सीवरेज पाइप लाइन बिछाने का तय समय में पूरा कराने के लिए पाबंद किया है। शहर में अभी 280 किलोमीटर की दूरी में सीवरेज पाइप लाइन बिछ चुकी है।

शहर की सीवरेज व्यवस्था महानगरों की तर्ज पर करने के लिए राज्य सरकार ने राजस्थान शहरी आधारभूत विकास परियोजना (आरयूडीआईपी) को जिम्मेदारी वर्ष २2017 में सौंपी थी। सीवरेज का निर्माण कार्य शुरू होने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सीवरेज परियोजना का वर्चुअल लोकार्पण 7 जुलाई 2018 को किया था। इसके बाद शहर में सीवरेज कार्य प्रमुख कॉलोनियों, बाजारों, चौराहों, लिंक रोड व मुख्य मार्गो पर गति पकड़ी है। हालांकि तय शर्तो के अनुसार परियोजना का कार्य 1095 दिनों में यानि 22 अगस्त 2020 तक पूर्ण कराना था। लेकिन शहर में कोरोना संकट काल के कारण श्रमिकों के पलायन से काम अटक गया। ऐसे में अभी सीवरेज कार्य 60.5 फीसदी ही पूर्ण हो सका है।

पाइप लाइन छह माह में बिछाने का लक्ष्य

योजना पर शहर में जनवरी 2021 तक आरयूडीआईपी १५२ करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है। शहर में अभी कॉलोनियों की गलियों में 362.248 किलोमीटर की दूरी में से 280.645 किमी क्षेत्र में पाइपलाइप बिछ चुकी है। 43610 घरों के सीवरेज से जुडऩे से शहर के 262070 लोग लाभांवित होंगे। शहर में कुल 410.3 कि.मी. लम्बाई में सीवर लाइन बिछाई जाएगी। शेष पाइप लाइन बिछाने का कार्य आगामी छह माह में पूर्ण करने में सीवरेज परियोजना की टीमें जुटी है।

शिकवे शिकायतें

सीवरेज के निर्माण कार्य को लेकर शुरू से ही शहर के लोगों को शिकवा शिकायतें रही है। घरों की पाइप लाइन क्षति ग्रस्त होने, कई दिनों तक निर्माण कार्य अधूरा पड़ा रहने, चैम्बर के ढक्कनों की फिटिंग व्यवस्थित नहीं होने, सड़कों पर उचित तरीके से डामरीकरण नहीं की शिकायतें अब आम है।

85 फीसदी काम पूर्ण

सीवरेज प्लांट वर्ष 2044 की संभावित आबादी व नगर नियोजन की संभावित तस्वीर पर आधारित है। 30 एमएलडी का एसटीपी एसटीपी सीवरेज प्लांट कुवाड़ा में बन रहा है। इसी प्रकार 48 एमडी के पम्पिंग स्टेशन का कार्य भी आरसी व्यास नगर में कोटा रोड पर प्रगति पर है। दोनों ही प्लांट का अभी 85 फीसदी तक ही निर्माण कार्य पूर्ण हो सका है।


सीवरेज में यूं होगा काम

सीवरेज प्लांट के जरिए शहर की विभिन्न कॉलोनियों का मकानों, नालियों व नालों से निकलने वाले गंदे पानी को भूमिगत पाइप लाइन के जरिए एकत्रित कर कुवाड़ा में स्थापित होने वाले ट्रीटमेंट प्लांट पर लाया जाएगा। यहां पानी को ट्रीटमेंट प्लांट के जरिए शुद्ध कर औद्योगिक इकाईयों के उपयोग में लाया जाएगा।

विशेष टीमें जुटी

सीवरेज प्लांट प्रभारी नितिन कुमार बताते है कि शहर में सीवरेज पाइप लाइन बिछाने का कार्य जिला प्रशासन के तय सीमा के अनुरूप प्रगति पर है। पथिक नगर, आरसी व्यासनगर, आर के कॉलोनी, सुभाष नगर, तिलकनगर,आजादनगर, शास्त्रीनगर, बापूनगर समेत 25 प्रमुख लोक्शन पर पाइप लाइन बिछाने का कार्य 80 से 90 फीसदी पूर्ण हो चुका है। जबकि मुख्य बाजारों, पुरानी कॉलोनियों व पुराने शहर में अब कार्य शुरू हो चुका है। कई स्थानों पर जलदाय विभाग की पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होने पर अब विशेष टीमें भी कार्य कर रही है। पाइप लाइन बिछाने के साथ ही रोड बनाने व डामरीकरण कार्य के लिए अलग से टीम काम कर रही है।

जन सहभागिता से शहर में बिछेगी सीवरेज

सीवरेज परियोजना का शहर में 60 फीसदी से अधिक कार्य पूर्ण हो चुका है, कोरोना काल में हुए श्रमिकों की पलायन के बाद अब वापसी हुई है। अनुबंधित एजेंसी ने निर्माण कार्य के लिए नई तकनीकी टीमें लगाई है। संसाधन व श्रम पावर दुगने से अधिक कर दिया है। दिसम्बर 2021 तक शहर में सीवरेज कार्य पूर्ण करने के साथ ही घरों में कनेक्शन कार्य जोडऩे का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। मई जून तकं घरों में कनेक्शन जोडऩे का कार्य शुरू हो जाएगा। सीवरेज कार्य के दौरान जरुर समस्याएं आती है, लेकिन जन सहयोग से सीवरेज का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा।
डीके मित्तल, अधीक्षण अभियंता,आरयूडीआईपी, भीलवाड़ा

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned