एम्बुलेंस में लगाना होगा जीपीएस

GPS will have to be installed in the ambulance जिले में पंजीकृत एम्बुलेंस वाहनों में व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाइस (जीपीएस) लगाना होगा। जीपीएस नहीं लगाने पर एम्बुलेंस वाहन जब्त हो सकेंगे।

By: Narendra Kumar Verma

Published: 27 Jun 2021, 01:02 PM IST

भीलवाड़ा। जिले में पंजीकृत एम्बुलेंस वाहनों में व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाइस (जीपीएस) लगाना होगा। जीपीएस नहीं लगाने पर एम्बुलेंस वाहन जब्त हो सकेंगे। GPS will have to be installed in the ambulance

सार्वजनिक सेवा यानों में व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाईस एवं इमरजेंसी बटन लगाने का प्रावधान है। मोटरवाहन अधिनियम 1988 की धारा 2 (35) में परिभाषित सार्वजनिक सेवा यान में एम्बुलेंस वाहन भी सम्मिलित है एवं सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार की अधिसूचना 1248(ई) में एम्बुलेंस वाहनों को परिवहन यान की श्रेणी में रखा गया है। जिसके लिए व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाईस का होना नागरिक सुरक्षा की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है।

जिला परिवहन अधिकारी डॉ. वीरेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि सरकार ने एंबुलेंस का किराया भी निर्धारित कर दिया है। इसके बावजूद अधिक किराया वसूलनें की शिकायतें आ रही है। इसके कारण एंबुलेंस की रियल टाइम मॉनिटरिंग जरूरी हो गई है। अब इसके लिए सभी एबुंलेंस चालकों को अपने वाहन में निर्माता द्वारा विषेष रूप से अनुमोदित एआईएस:140 मानक का व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाइस लगाना आवश्यक होगा।

उन्होंने बताया कि एम्बुलेंस वाहन स्वामियों को नोटिस जारी कर निर्देशित किया गया है कि अपने पंजीकृत एम्बुलेंस वाहनों मे उसी के निर्माता (ओईएम) द्वारा विशेष रूप से अनुमोदित एआईएस:140 मानक का व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाईस (जीपीएस) स्थापित कर सूचना जिला परिवहन कार्यालय को देनें के निर्देश दिए है। उन्होनें कहा कि 02 दिवस बाद सघन जांच अभियान चलाया जाकर बिना एआईएस:140 मानक का व्हीकल लोकेशन ट्रेकिंग डिवाईस (जीपीएस) के एम्बुलेंस वाहनों के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी तथा वाहन जब्त किया जाएगा।

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned