माफिया पर लगाम के लिए गठित स्पेशल टास्क फोर्स ने किया का मुखबिर रैकेट का भंडाफोड़

तीन दिन में 15 ट्रैक्टर और तीन डम्पर बरामद

भीलवाड़ा।

बजरी माफिया पर लगाम के लिए गठित स्पेशल टॉस्क फोर्स ने सोमवार को बड़े मुखबिर रैकेट का भंडाफोड़ किया। माफिया वाट्सअप गु्रप बनाकर टॉस्क फोर्स की कार्रवाई पर न केवल नजर रख रहे थे बल्कि उनकी सूचनाएं भी लीक कर रहे थे। फोर्स ने गु्रप के दो एडमिन को हिरासत में लिया। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है। फोर्स ने तीन दिन में अवैध बजरी के 15 ट्रैक्टर और 3 डम्पर जब्त किए।

टॉस्क फोर्स के नोडल प्रभारी एवं आइएएस अतहर आमिर खान ने मीडिया को बताया, पंचायत चुनाव को देखते जिलेभर में अवैध बजरी दोहन पर लगाम के लिए जिला कलक्टर राजेन्द्र भट्ट ने टीम बनाई। इसमें खनिज, वन, राजस्व, पुलिस और परिवहन विभाग के कर्मी शामिल किए गए। टीम चौबीस घंटे प्रभावी कार्रवाई करती, इससे पहले सूचनाएं लीक हो रही थी। टीम कार्रवाई के लिए कई जगह पहुंची, वहां से कुछ देर पहले ही बजरी माफिया रफूचक्कर हो गए। इतने विभागों के अधिकारियों के बैरंग लौटने से प्रशासन खासा परेशान हो गया।

खुलासे से दंग अफसर

टीम सूचना की लीकेज रोकने के लिए तह में गई तो बड़ा खुलासा हुआ। खान ने बताया कि बजरी माफिया ने वाट्सअप पर दो गु्रप बना रखे थे। पहले गु्रप का नाम जय महाकाल था और एडमिन भवानीनगर निवासी राधेश्याम गुर्जर तथा दूसरे भाई-भाई का प्यार गु्रप का एडमिन पुर का प्रकाश शर्मा था। दोनों गु्रप अफसरों की कार्रवाई लीक करने के लिए बनाए गए थे। जय महाकाल में 150 तथा भाई-भाई का प्यार में 219 लोग जुड़े थे। अफसर यह देखकर दंग रह गए कि एेसे भी सूचनाएं लीक हो सकती है।

साइबर सेल की मदद से खुलासा

टीम को व्हाट्स गु्रप के बारे में पता चला तो पुलिस की साइबर सेल की मदद ली। नेटवर्क को तोडऩे के लिए इंटेलिजेंस को भी काम पर लगाया। उसके बाद दोनों गु्रप के एडमिन राधेश्याम गुर्जर व प्रकाश शर्मा को हिरासत में लिया। उनसे पूछताछ में बजरी माफिया के नाम सामने आए। टीम गु्रप के उन नम्बरों का पता लगा रही, जो इससे जुड़े थे। उस गु्रप में कौन शामिल थे और बजरी दोहन में क्या रोल है, इसकी जांच की जा रही है। दोनों एडमिन को प्रतापनगर पुलिस के सुपुर्द कर माइनिंग, एमएमडीआर तथा आइटी एक्ट में एफआइआर दर्ज कराई जा रही है। उधर, एडमिन गु्रप में क्या रोल अदा कर रहे थे। इस बारे में भी पूछताछ की जा रही है।

rajesh jain Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned