गुलाबपुरा की औद्योगिक इकाईयां संकट में

सिक्स लेन से बारसात के पानी में आने लगी रूकावट
बारिश का पानी सरेरी बांध में न जाकर उद्योगों में जाएगा

By: Suresh Jain

Published: 01 Jul 2019, 08:47 PM IST

भीलवाड़ा ।
किशनगढ़ से उदयपुर तक फोरलेन से सिक्स लेन के लिए चल रहे विकास कार्य के चलते औद्योगिक इकाईयों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गुलाबपुरा क्षेत्र में चल रहे सड़क निर्माण के दौरान बरसाती नाले का निर्माण सही नहीं होने से बरसात का पानी सरेरी बांध में न जाकर क्षेत्र के औैद्योगिक इकाईयों में आने लगा है। इससे थोड़ी सी तेजी बारिश से इन इकाईयों को करोडो़ं रुपए का नुकसान हो सकता है। इस सम्बन्ध में ग्राम पंचायत सरेरी के सरपंच हरफूल चौधरी ने जिला कलक्टर को पत्र लिखकर बरसाती पानी की निकासी सही कराने की मांग की है।
चौधरी ने बताया कि गुलाबपुरा क्षेत्र का सबसे बड़ा सरेरी बांध है। इसमें बरसात का पानी बरसाती नाले से ही आता है। इन नाले का निर्माण राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने सिक्स लेन निर्माण के चलते तो किया लेकिन निर्माण लेवल स्तर पर नहीं होने से बरसात का पानी बांध में नहीं जा रहा है। यह पानी सड़कों पर बहता हुआ औद्योगिक इकाईयों में आने लगा है। इस पानी से इकाईयों में पड़े माल खराब होने की संभावना बढ़ गई है। यही स्थिति रही तो मशीनें व उद्योग बन्द हो सकते है। इसी प्रकार राजमार्ग 79 का भीलवाड़ा से चित्तौडग़ढ़ के मध्य कार्य चल रहा है। मार्ग के दोनो तरफ निर्मित नालों को तोडकर सड़क का विस्तार किया जा रहा है। लेकिन नए नालों का निर्माण नही किया जा रहा है। इससे बरसाती पानी के निकासी में बडी समस्या शुरू हो गई है। राजमार्ग के सहारे पानी भरने से औद्योगिक इकाईयों में संकट उत्पन्न हो गया है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned