संकट से बचना है तो बचाओ पानी

केंद्रीय अधिकारी ने किया जहाजपुर व कोटड़ी क्षेत्र का दौरा

By: Suresh Jain

Published: 07 Jul 2019, 03:46 PM IST

भीलवाड़ा।
केन्द्रीय ऊर्जा मंत्रालय के निदेशक पवन कुमार कालरवाल ने शनिवार को जहाजपुर व कोटड़ी पंचायत समिति में जल शक्ति अभियान की ब्लॉक स्तरीय बैठक ली। इसमें जल संकट से बचने के लिए जल संरक्षण पर जोर दिया। पानी का अपव्यय रोकने के लिए जागरूक करने का आह्वान किया। कालरवाल ने कहा, अधिकांश जिले डार्क जोन में है। भूजल स्तर गिर रहा है। भूजल स्तर बनाए रखने के लिए जल संचयन करना होगा। ग्रामीण इलाकों में मनरेगा के तहत जल संचयन योजनाएं हाथ में लेनी होगी। रेन वाटर हार्वेस्टिंग तथा वाटर रिसाइकलिंग के लिए वाटरशेड डवलपमेंट कार्यक्रम अपनाने होंगे। जल संचयन के कार्यक्रम गांव-गांव पहुंचाने का आह्वान किया।
उन्होंने जहाजपुर के शक्करगढ़, गोगा का खेड़ा व बावड़ी में जलग्रहण योजना के कार्यों का निरीक्षण किया। बावड़ी व तस्वारिया बासा में वाटर हार्वेस्टिंग के लिए बनाए फार्म पॉण्ड, पट्टी स्ट्रक्चर, चारागाह विकास कार्य भी देखे। गोगा का खेड़ा में भूजल रिचार्ज के बारे में बताया व चरागाह विकास कार्य व एनिकट का निरीक्षण किया। जिला परिषद सदस्य हेम सुलतानिया व शक्करगढ़ सरपंच किशोर कुमार शर्मा ने अपने क्षेत्र 19 एनीकट के बारे में बताया। केन्द्रीय जल शक्ति आयोग के उप निदेशक अभिनव श्रीवास्तव, जहाजपुर विकास अधिकारी आरपी विजय, हिरण्य गर्भ, रामराज मीणा, प्रेमचंद बैरवा, रेंजर घीसालाल रेगर आदि साथ थे।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned