उगते सूरज को अघ्र्य

छठ पर्व संपन्न

By: Suresh Jain

Published: 22 Nov 2020, 12:33 PM IST

भीलवाड़ा।
यहां रहने वाले पूर्वांचल के लोगों ने शनिवार को जलकुंड में उगते सूर्य को अघ्र्य दिया और कोरोना से आमजन को निजात दिलाने की प्रार्थना की। व्रतधारियों ने घर में अस्थाई रूप से बनाए जलकुंड में सूर्य को अघ्र्य दिया। इसके साथ ही चार दिवसीय छठ पर्व संपन्न हो गया।
पूर्वांचल परिवार के सदस्य डॉ. अशोकसिंह ने बताया कि बुधवार को नहाय खाय के साथ शुरू छठ महापर्व के बाद दूसरे दिन गुरुवार को महिलाओं ने निर्जला व्रत रखा। शाम को महिलाओं ने गुड़ की खीर,पूरी, और केले का प्रसाद ग्रहण कर व्रत खोला। इसके बाद 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू किया। शुक्रवार शाम डूबते सूर्य और शनिवार सुबह उगते सूर्य को व्रत रखने वाले अध्र्य देकर छठ माता से देश को कोरोना मुक्त करने की मांग की। इसके बाद व्रत खोला। इससे पहले महिलाओं ने सूर्य उदय होने से पहले ही तैयार होकर अपने बनाए कृत्रिम जलकुंड पर पूजा की। इसके साथ ही चार दिवसीय महोत्सल सम्पन्न हुआ।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned