कार्मिकों को अनुचित उपार्जित अवकाश का लाभ देने के मामले में जांच कमेटी गठित

सुवाणा ब्लॉक का मामला

By: Suresh Jain

Published: 11 Jun 2021, 10:40 PM IST

भीलवाड़ा।
जिले के सुवाणा ब्लॉक की सीबीओ साबिया बानो पद का दुरुपयोग कर अपने अधीनस्थ शिक्षकों व कार्मिकों को अनुचित उपार्जित अवकाश का लाभ देने के मामले में प्रारंभिक जांच में दोषी पाई है। इस मामले में अब शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने निदेशालय से तीन अधिकारियों की एक विशेष जांच कमेटी गठित की है।
शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने बताया कि भीलवाड़ा जिले के सुवाणा ब्लॉक की मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी साबिया बानो ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अधीनस्थ विद्यालयों के शिक्षकों कार्मिकों को अनुचित उपार्जित अवकाश का लाभ दिया है। इस संबंध में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी भीलवाड़ा की ओर से की गई प्रारंभिक जांच की तथ्यात्मक रिपोर्ट के आधार पर निदेशालय से तीन अधिकारियों की एक कमेटी गठित की गई है। इसमें अरविंद गर्ग सहायक लेखा अधिकारी प्रथम, मोइनुद्दीन सहायक लेखा अधिकारी द्वितीय और विष्णु पुरोहित वरिष्ठ सहायक निदेशालय को शामिल किया गया है। स्वामी ने कमेटी को एक सप्ताह में जांच कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए है।
-----------
कक्षा में आराम करने के मामले में दो जनें दोषी
बनेडा ब्लॉक के बल्दरखा स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में स्कूल समय केदौरान शिक्षकों के कक्षा कक्ष में आराम करने के मामले में निदेशालय के निर्देश पर की गई जांच में शिक्षकों को प्रारंभिक तौर पर दोषी पाया गया है। गौरतलब है कि बल्दरखा स्थित विद्यालय में अध्यापक बिस्तर लगाकर आराम करते हुए पाए गए थे। इस बारे में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ब्रह्मा राम चौधरी ने लांबिया विद्यालय के प्रिंसीपल राजेश शर्मा व बालेसरिया विद्यालय के प्रिंसीपल मोहनलाल कोली से जांच कर विस्तृत रिपोर्ट मांगी थी। दोनों ने बल्दरखा विद्यालय जाकर जांच के बाद रिपोर्ट मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ब्रह्मा राम चौधरी को सौंप दी। जांच में पाया गया कि पुस्तकालय अध्यक्ष कन्हैया लाल गुर्जर और शिक्षक रामपाल आराम कर रहे थे। रामपाल तबीयत खराब होने पर वह दवाई लेकर आराम कर रहा था जबकि कन्हैयालाल लकवा ग्रस्त होने सलेटा हुआ था। रामपाल की फील्ड में ड्यूटी थी। नियमानुसार उनको अवकाश लेकर घर जाकर स्वास्थ्य लाभ लेना चाहिए था। इस तरह विद्यालय में सोने से विभाग की छवि खराब होती है। जिला शिक्षा अधिकारी ने इस संबंध में तथ्यात्मक रिपोर्ट बनाकर निदेशालय भेज दी गई है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned