आईटीसी रिफंड ऑनलाइन के थे आदेश अब मांग रहे दस्तावेज

व्यापारियों को हो रही परेशानी

By: Suresh Jain

Published: 07 Jul 2019, 05:03 PM IST

भीलवाड़ा।
सरकार ने छह माह पहले आईटीसी रिफंड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के आदेश जारी किए थे। लेकिन रिफंड आज तक ऑन लाइन नहीं हो पा रहे है। अब विभाग इससे जुड़े दस्तावेज मांग रहे है। इससे व्यापारियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कर सलाहकार का कहना है कि ऑनलाइन फाइल करने से संबंधित सर्कुलर-79 सरकार ने 31 दिसंबर 2018 को जारी किया था। इसमें स्पष्ट किया था कि अब जीएसटी रिफंड पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी और इसके लिए अधिकतम 4 दस्तावेज जैसे निर्यात से संबंधित रिफंड के लिए जीएसटीआर 3बी, 2ए, टेबल-6, व डिक्लेरेशन, ऑनलाइन अपलोड करने होंगे। क्योंकि 4 से अधिक दस्तावेज पोर्टल पर अपलोड करने की सुविधा नहीं है।
दस्तावेज अपलोड, अधिकारी कह रहे पोर्टल पर नहीं दिख रहे
आदेश के अनुसार व्यापारियों को रिफंड एप्लीकेशन (संबंधित 4 दस्तावेज अपलोड करने के साथ) ऑनलाइन फाइल करने पर एआरएन मिलता है। जिससे यह सुनिश्चित हो जाता है कि उसकी रिफंड एप्लीकेशन जीएसटी पोर्टल पर फाइल हो गई है। लेकिन हकीकत इसके विपरीत है। सीजीएसटी में पंजीकृत निर्यातक कारोबारी ने जीएसटी रिफंड ऑनलाइन फाइल किया और उसके बाद जब एआरएन की पूछताछ की तो अधिकारी ने बताया कि उसका जीएसटी रिफंड विभागीय पोर्टल पर दिख ही नहीं रहा है। अधिकारियों का कहना है कि वह रिफंड क्लेम के लिए सभी 4 दस्तावेजों के अलावा खरीद पर आईटीसी लेने की सभी इनवॉयस व निर्यात की इनवॉयस और शिपिंग बिल विभाग में जमा कराए तो ही रिफंड प्रोसेस हो सकेगा। इस मामले में कुछ व्यापारियों ने सरकार से ऑनलाइन जीएसटी रिफंड प्रक्रिया के बारे में जल्द ही स्पष्टीकरण जारी करने की मांग की है। ताकि इससे व्यापारियों को अनावश्यक परेशानी न हो और सबसे महत्वपूर्ण यह है की ऑनलाइन प्रक्रिया से कागज की बचत होगी। यह प्रक्रिया पर्यावरण के लिए हितकर हैं।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned