श्रमिक संगठनों ने किया प्रदर्शन

प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम दिया ज्ञापन

By: Suresh Jain

Updated: 03 Jan 2020, 09:13 PM IST

भीलवाड़ा।
Labor organizations performed भारतीय मजदूर संघ की ओर से शुक्रवार को केन्द्र व राज्य सरकार की गलत नितियों के खिलाफ शुक्रवार को कलक्ट्रेट के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। विभिन्न श्रमिक संगठनों ने धरना देकर श्रमिकों व मजदूरों ने अपनी मांगों को लेकर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया।

Labor organizations performed भामसं के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रभाष चौधरी ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों का निजीकरण पर रोक लगाई जाए। इससे सरकार को करोड़ों का नुकसान हो रहा है। प्रदर्शन के दौरान प्रधानमंत्री की ओर से मजदूर हित में लिए गए फैसले की प्रशंसा की गई है। जिला मंत्री शैलेन्द्रसिंह राठौड़ ने कहा कि आंगनबाड़ी आशा, मिड-डे-मिल कर्मचारी, ग्रामीण डाक सेवक को सरकारी कर्मचारी घोषित करने समेत कई मांगें रखी।

मुख्यमंत्री के नाम दिए गए ज्ञापन में संघ के जिलाध्यक्ष दिनेश कोठारी ने बताया कि रोडवेजकर्मियों को सातवां वेतनमान, सेवानिवृत्त रोडवेजकर्मियों का भुगतान, जलदायकर्मियों के तृतीय एसीपी पर जीपी 3600 की वसूली आदेश वापस लेने, विद्युत कर्मियों की मेडिक्लेम पॉलिसी के स्थान पर चिकित्सालय पुनर्भरण पद्धति लागू करने की मांग की गई। ज्ञापन देने वालों में भामसं संरक्षक जुम्मा काठात, गोपाल चतुर्वेदी, रेणु व्यास, लादूलाल वर्मा, दलपत सिंह, शकुन्तला श्रृंगी, सीता सोनी, रामेश्वर डीडवानियां, जगदीश माली, महेश शर्मा, शंकरलाल नायक आदि शामिल थे।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned