गंभीर स्थिति से निकाल रईस को दिया जीवनदान

35 तक पहुंच गई थी ऑक्सीजन सेचुरेशन

By: Suresh Jain

Published: 08 May 2021, 08:52 PM IST

भीलवाड़ा।
जिले के रायपुर कस्बे के एक युवक की कोरोना के चलते तबीयत बिगडऩे तथा ऑक्सीजन सेचुरेशन ३५ तक आने के बावजूद चिकित्सा अधिकारियों ने स्थिति संभाल ली और युवक को स्वस्थ कर घर भेज दिया।
रायपुर के रईस मोहम्मद पिता अब्दुल पठान (30) को सांस में तकलीफ पर १८ अप्रेल को भीलवाड़ा के महात्मा गांधी अस्पताल लाए। चिकित्सकों ने ऑक्सीजन सेचुरेशन कम होने पर तत्काल भर्ती कर लिया। रईस ने बताया कि तीन-चार दिन यहां राहत नहीं मिली तो बिन बताए रायपुर चला गया। २७ अप्रेल को फिर तबीयत बिगड़ी तो भीलवाड़ा आया। दो घंटे इंतजार करने के बाद भी अस्पताल में बेड नहीं मिला तो रायपुर चिकित्सालय पहुंचा तथा सांस में परेशानी के बारे में बताया। ब्लॉक सीएमएचओ भवानीसिंह राठौड़ ने रईस को भर्ती कर ऑक्सीजन लगा दिया। तब ऑक्सीजन सेचुरेशन ३५ से ४० थी। डॉ. राठौड़ व डॉ. रामराज मीणा की देखरेख में तबीयत में सुधार होने लगा। ऑक्सीजन सेचुरेशन ९० तक आ गया था। 4 मई तक ऑक्सीजन लेवल ९५ आने के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दी गई। रईस ने बताया कि डॉ. विजेंद्र टेलर, डॉ. ललित सालावत, नर्सिंग कर्मचारी जहीर अब्बास, निसार मोहम्मद, कमलेश शर्मा, लीला, अंकिता मीणा, वसीम राजा आदि मरीजों की दिन-रात देखभाल में लगे हैं।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned