प्रसव के दौरान विवाहिता की हालत बिगड़ी

महात्मा गांधी अस्पताल के एमसीएच का मामला

By: Suresh Jain

Updated: 22 Nov 2020, 11:37 AM IST

भीलवाड़ा।
महात्मा गांधी अस्पताल के एमसीएच में सामान्य प्रसव कराने की गोली के दुष्प्रभाव से प्रसूता की हालत बिगड़ गई। बापूनगर निवासी मयंक बंसल ने मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुलभ शर्मा को शिकायत की। इसमें बताया कि बहन रागिनी को 7 नवम्बर को प्रसव के लिए एमसीएच में भर्ती कराया, जहां विजयलक्ष्मी नामक नर्सिंगकर्मी ने सामान्य डिलेवरी करवाने की बात कहते पांच हजार रुपए की गोली देने की बात कही। इस पर मां ने विजयलक्ष्मी को पांच हजार रुपए दिए। गोली लेने से रागिनी की तबीयत बिगड़ गई। रात २.४० बजे रागिनी ने बेटी को जन्म दिया। लेकिन रक्तस्त्राव अधिक होने लगा। इस पर परिजनों ने बुलाया तो विजयलक्ष्मी ने मना कर दिया। इसके बाद स्टाफ सदस्यों ने सहयोग कर बहन की जान बचाई।
बंसल का आरोप है कि विजयलक्ष्मी ने बाद में उन्हें धमकाया। उधर, विजयलक्ष्मी का कहना है कि उसने ऐसा कोई काम नहीं किया है। वह खुद बनेड़ा से एक महिला की डिलेवरी करवाने भीलवाड़ा आई थी। ड़िलेवरी कराने के बाद घर चली गई। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुलभ शर्मा ने बताया कि एमजीएच अधीक्षक डॉ. अरुण गौड़ शिकायत की जांच कर रहे हैं। दूसरी तरफ बताया गया विजयलक्ष्मी एमसीएच में कार्यरत नहीं है और इस मामले में समझौता हुआ है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned