scriptMP hanuman Beniwal raised the issue of opium growers in Parliament | MP hanuman Beniwal सांसद बेनीवाल ने संसद में उठाया अफीम उत्पादकों का मुद्दा | Patrika News

MP hanuman Beniwal सांसद बेनीवाल ने संसद में उठाया अफीम उत्पादकों का मुद्दा

MP hanuman Beniwal raised the issue of opium growers in Parliament राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने लोकसभा की कार्रवाई के दौरान भीलवाड़ा, उदयपुर, चितौडग़ढ़ सहित मेवाड़ क्षेत्र के अफ ीम उत्पादक किसानों की समस्या उठाई।

भीलवाड़ा

Published: December 07, 2021 12:11:50 am

भीलवाड़ा । राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने लोकसभा की कार्रवाई के दौरान भीलवाड़ा, उदयपुर, चितौडग़ढ़ सहित मेवाड़ क्षेत्र के अफ ीम उत्पादक किसानों की समस्या उठाई। MP hanuman Beniwal raised the issue of opium growers in Parliament
अफीम किसानों को केंद्र सरकार ने दी बड़ी राहत
केंद्रीय राजस्व विभाग ने अफीम फसल वर्ष 2021-22 के लिए जारी अफीम नीति के प्रावधान क्रमांक दो-क के एक व दो उप-पैरा में संशोधन कर सीपीएस पद्धति के अंतर्गत पट्टे देने का दायरा बढ़ाया है। भारत सरकार के राजपत्र में प्रकाशित संशोधन के अनुसार पट्टे देने से देशभर में तीन से पांच हजार अफीम काश्तकार बढ़ेंगे। संशोधन के अनुसार पात्र किसानों को भी डोडे में चीरा न लगाने की शर्त के साथ 6-6 आरी के पट्टे दिए जाएंगे।
उन्होंने नियम 377 के तहत किसानों की मांग सदन में रखी। उन्होंने केन्द्र से मार्फि न नियम हटाने, सरकार द्वारा जो डोडा जलाया या खेतो में डलाया जाता है उसका किसान को मुवावजा देने व 1998 से विभिन्न प्रकार से निरस्त पट्टे वापस किसानों को देने तथा नए पट्टे देने व अफ ीम तोल का परिणाम तुरंत किसान को देने की मांग की।
बहेडिय़ा ने कपड़े पर जीएसटी का मुद्दा उठाया

इधर, भीलवाड़ा सांसद सुभाष चन्द्र बहेडिय़ा ने लोकसभा मे सोमवार को कपड़े पर जीएसटी की बढी हुई दर वापस लेने का मुद्दा उठाया। उन्होंने नियम 377 के तहत उद्यमियों की पीड़ा सदन को अवगत कराई। बहेडिय़ा ने सदन को अवगत कराया कि रोटी के अलावा कपड़ा आदमी की दूसरी प्रमुख आवश्यकता है। जीएसटी लागू होने पर कपड़े पर 5 प्रतिशत टैक्स लगाया गया, परन्तु अभी कपड़े पर जीएसटी काउंसिल द्वारा जीएसटी 12 प्रतिशत कर दी गई, जो 1 जनवरी 2022 से लागू होगी।
सांसद बहेडिय़ा ने सदन के माध्यम से मंाग करी की कपड़े पर जीएसटी 5 प्रतिशत ही रखी जाए, उन्होने कहा कि कपड़ा व्याक्ति की प्राथमिक आवश्यकता है तथा जीएसटी 12 प्रतिशत होने से कपड़ा महंगा हो जाएगा, इससे आम आदमी प्रभावित होगा। इसके साथ ही कपड़ा उद्योग सबसे अधिक रोजगार देने वाला उद्योग भी है। इसलिए कपड़ा उद्योग हतोत्साहित नही हो इसके लिए आवश्यक है कि जीएसटी की दर पूर्व की भांति 5 प्रतिशत की जावे ताकि उद्योग विश्व पटल पर भी व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा में बना रहे।MP hanuman Beniwal raised the issue of opium growers in Parliament

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.