scriptNegligence of Bhilwara Municipal CouncilWe have lost the future, still | Negligence of Bhilwara Municipal Council भविष्य को हम खो चुके, अब भी हादसे का इंतजार | Patrika News

Negligence of Bhilwara Municipal Council भविष्य को हम खो चुके, अब भी हादसे का इंतजार

Negligence of Bhilwara Municipal Council नगर परिषद की लापरवाही ने आजादनगर के भविष्य लालवानी की जान ले ली। असमय काल का ग्रास बने भविष्य की मौत के बाद भी जिम्मेदार अब भी कुंभकर्णी नींद में है। मासूम की जान के बाद भी माणिक्यलाल वर्मा कॉलेज से बड़ला चौराहे तक बने क्षतिग्रस्त नाले की सुध नहीं ली गई। इससे एक बार फिर हादसे का अंदेशा बना हुआ है। राजस्थान पत्रिका टीम ने नाले का जायजा लिया तो कुछ इसी तरह के हालात देखने को मिले।

भीलवाड़ा

Published: April 21, 2022 10:33:56 pm

Negligence of Bhilwara Municipal Council नगर परिषद की लापरवाही ने आजादनगर के भविष्य लालवानी की जान ले ली। असमय काल का ग्रास बने भविष्य की मौत के बाद भी जिम्मेदार अब भी कुंभकर्णी नींद में है। मासूम की जान के बाद भी माणिक्यलाल वर्मा कॉलेज से बड़ला चौराहे तक बने क्षतिग्रस्त नाले की सुध नहीं ली गई। इससे एक बार फिर हादसे का अंदेशा बना हुआ है। राजस्थान पत्रिका टीम ने नाले का जायजा लिया तो कुछ इसी तरह के हालात देखने को मिले। जगह-जगह से नाला क्षतिग्रस्त है। नाले की सुरक्षा दीवार टूटी होने से राहगीरों के उसमें गिरने का डर बना हुआ है। खासतौर से रात के समय कभी हादसा हो सकता है।Negligence of Bhilwara Municipal Council
We have lost the future, still waiting for the accident
We have lost the future, still waiting for the accident

नाले की सफाई नहीं, दलदल के ऊपर लापरवाही
मुख्य नाला होने के बाद भी इसकी सफाई पर ध्यान नहीं दिया जाता। नाला कचरे अटा पड़ा हुआ है। गंदा पानी आगे नहीं बढ़ने से दलदल का रूप ले चुका है। उसके ऊपर सुरक्षा दीवार ही टूटी होने से किसी के भी इसमें गिरने का अंदेशा रहता है। खासतौर से रात में अंधेरा होने और दुपहिया वाहन के अनियंत्रित होने पर उसमें गिरने से वाहन चालक दलदल मं फंस सकता है।

ना बेरीकेड, ना ही कटटे लगाकर सतर्कता
नाले की दीवार टूटी होने से जिम्मेदारों ने टूटी हुई जगह ना बेरीकेड लगा रखें और ना ही मिटटी से भरे कटटे रखकर सावधानी बरत रखी रखी है। जबकि यहां सतर्कता बरतते हुए वैकल्पिक व्यवस्था की जानी चाहिए थी। करीब आठ माह पूर्व पिता के साथ जा रहे भविष्य लापरवाही का शिकार हुआ। बहाव में बहकर एमएलवी कॉलेज के बाहर टूटे नाले में गिर गया। इसके बाद नाले में बह जाने से उसकी डूबने से मौत हो गई। आनन-फानन में लारवाही छिपाने के लिए परिषद कॉलेज के बाहर नाले की दीवार का निर्माण करवा दिया। लेकिन उससे आगे नहीं बढ़ पाया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: पावर प्ले में गुजरात 2 विकेट के नुकसान पर 38 रनों पर6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.