अब गंभीर रोगी की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही डिस्चार्ज

सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

By: Suresh Jain

Published: 02 May 2021, 09:43 AM IST

भीलवाड़ा
अस्पताल में भर्ती गंभीर रोगी, जो स्वस्थ हो चुके है, उनका आरटीपीसीआर टेस्ट नेगेटिव आने के बाद ही उन्हें डिस्चार्ज किया जाएगा। राज्य सरकार ने गत २८ अप्रेल को नई गाइड लाइन जारी की है।
सीएमएचओ डॉ. मुस्ताक खान ने बताया कि सरकार की ओर से जारी गाइड लाइन के अनुसार एसेम्प्टोमेटिक, वेरी माइल्ड व प्री सेम्प्टोमेटिक केस वर्ग के सभी रोगियों को होम आइसोलेशन में रखने का प्रावधान है। गत तीन दिन में रोगी को बुखार नहीं रहता। एेसे रोगी को दस दिन बाद डिस्चार्ज किया जाना चाहिए। होम आइसोलेशन रोगी को डिस्चार्ज करने से पहले आरटीपीसीआर टेस्ट की जरूरत नहीं हैं।
इसी प्रकार मध्यम श्रेणी के रोगी जिन्हें अस्तपाल में भर्ती किया गया है तथा उपचारित करने के बाद गत तीन दिन में रोगी को बुखार नहीं है व ऑक्सीजन सपोर्ट की भी जरूरत नहीं है तो एेसे रोगियों को दस दिन बाद डिस्चार्ज किया जा सकता है। रोगी को डिस्चार्ज से पहले आरटीपीसीआर की जरूरत नहीं है।
उन्होंने बताया कि इस गाइड लाइन में सिवियर केस में गंभीर रोगी के स्वस्थ होने के बाद उसका आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा, जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उन्हें सात दिन तक पूरी निगरानी में होम आइसोलेशन में रखा जाएगा।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned