सीमंधर जिनालय के वार्षिकोत्सव पर शोभायात्रा

साढ़े चार फीट की सफेद वियतनाम पत्थर से बनी सीमन्धर की पदमाशन प्रतिमा

By: Suresh Jain

Updated: 03 Jan 2020, 09:05 PM IST

भीलवाड़ा।
Seemandhar District कांवाखेड़ा स्थित सीमन्धर जिनालय के सातवे वार्षिकोत्सव पर शुक्रवार को शोभायात्रा निकाली गई। जैन दर्शन के अभयकुमार जैन के सान्निध्य में वार्षिकोत्सव शुरू हुआ। समारोह तीन दिन चलेगा। इसकी शुरुआत ध्वजारोहण के साथ हुई। सुबह ८.१५ बजे सीमंधर जिनालय से श्रीजी की बैंड बाजे के साथ शोभायात्रा निकली गई, जो विभिन्न मार्गों से होती हुई कांवाखेड़ा स्थित संस्कार भवन पहुंचकर सम्पन्न हुई।
Seemandhar District श्रीजी को नरेश व प्रदीप लुहाड़ीया ने मंडप तक पहुंचाया। ध्वजारोहण नेमिचंद बगेरवाल, पांडाल उद्घाटन संदीप छाबड़ा एवं विधानमंडप का उद्घाटन गुलाबचंद शाह ने किया। संचालक अशोक सेठी ने बताया कि अभय कुमार के सान्निध्य में तीन दिवसीय विधान दोपहर 1 से 4 बजे तक होगा। शाम ७.३० बजे से ९ बजे तक जिनेंद्र भक्ति के साथ पंडित के प्रवचन हुए। विधान के दौरान बच्चों की धार्मिक पाठशाला भी हुई।
अशोक सेठी ने बताया कि शनिवार सुबह ७ बजे जिनेंद्र भक्ति के साथ कार्यक्रम शुरू होंगे। नित नियम पूजन व शास्त्र स्वाध्याय कार्यक्रम होगा। दोपहर 1 से 4 बजे तक प्रवचन होंगे। रात 6.30 बजे से जिनेंद्र भक्ति स्वाध्याय एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। विधान का समापन 5 जनवरी को होगा। सीमन्धर जिनालय का सात वर्ष पूर्व पंचकल्याणक हुआ था। कल्पद्रुम बड़े मंदिर के प्रवक्ता पवन अजमेरा ने बताया कि मंदिर में साढ़े चार फीट की सफेद वियतनाम पत्थर से बनी सीमन्धर श्रीजी की पदमाशन प्रतिमा विराजमान है। मंदिर में प्रथम तल पर 24 जिनेंद्र देव की पाषण प्रतिमा विराजमान है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned