नदियों ने फिर रोक दी राहें... बादल गरजे और बरसे भी

भीलवाड़ा में हुई तेज बारिश

भीलवाड़ा।


कुछ दिन की खामोशी के बाद रविवार रात बादल फिर गरजे और जमकर बरसे भी।
शहर में देर रात तेज बारिश शुरू हुई और तड़के तक चली।बेंगू, चितौड़गढ़ व बिजोलिया के ऊपरमाल क्षेत्र में रविवार को हुई बारिश से मैनाली व बेड़च नदी फिर से ऊफान पर आ गई। मैनाली व बेड़च नदी की पुलियों पर पानी आने से सुबह आवागमन बन्द हो गया।
भीलवाड़ा शहर में आधी रात हुई झमाझम बारिश से सड़कें दरिया बन गई। हालांकि रात में आवाजाही कम होने से लोगों को परेशानी नहीं हुई।

 

नाले में ऑटो अटका, रोने लगे बच्चे

इधर, सोफिया स्कूल के निकट बच्चों को ले जा रहा एक ऑटो नाले में अटक गया। क्षेत्र के लोगों ने बच्चों को निकाला। सूचना देने पर वही एक घन्टे तक कोई अधिकारी या कर्मचारी नहीं पहुंचा। बाद में सुभाषनगर थाने का पुलिस जाप्ता पहुंचा।

 

नदियां उफान पर

बीगोद@पत्रिका. बेगूं, चितौड़गढ़ व ऊपरमाल क्षेत्र में रविवार को हुई बारिश से मैनाली व बेड़च नदियां फिर से ऊफान पर हैं। मैनाली व बेड़च नदी की पुलियाओं पर पानी आने से आवागमन बन्द हो गया। इससे राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा। भांड का खेड़ा के यहां मैनाली पुलिया पर बिछाया गया मलबा पानी के साथ बहने से पुलिया क्षतिग्रस्त हो गई। फिर भी लोग जान जोखिम में डालकर पुलिया से निकल रहे हैं। त्रिवेणी नदी का गेज भी चार मीटर हो गया है। पानी की आवक बढ़ने से त्रिवेणी नदी की पुरानी पुलिया पर पानी आने की उम्मीद है। त्रिवेणी संगम स्थल पर भी मन्दिर व धर्मशालाओं में पानी आ गया है। यहां लगी दुकानों को दुकानदार समेटने में लगे हुए हैं।

mahesh ojha Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned