ऊफ ये उमस, इतनी बारिश के बाद भी नहीं मिल रहा चैन

भीलवाड़ा जिले में इस साल औसत की तुलना में १३३ फीससदी बारिश हो चुकी है। जिले में पिछले एक माह से ज्यादा समय से नदी नाले उफान पर है, लेकिन भारी उमस के चलते लोग पसीने से तरबतर हो रहे है। इतनी ज्यादा बारिश के बावजूद लोगों को राहत नहीं मिली है।

भीलवाड़ा. भीलवाड़ा जिले में इस साल औसत की तुलना में १३३ फीससदी बारिश हो चुकी है। जिले में पिछले एक माह से ज्यादा समय से नदी नाले उफान पर है, लेकिन भारी उमस के चलते लोग पसीने से तरबतर हो रहे है। इतनी ज्यादा बारिश के बावजूद लोगों को राहत नहीं मिली है।

भीलवाड़ा शहर में मंगलवार को दिनभर आसमान में बादलों का डेरा रहा। शाम को मौसम ने पलटा खाया और कुछ देर तेज बरसात हुई, लेकिन इससे उमस बढ़ गई, लोगों को राहत मिलने के बजाय परेशानी ही महसूस हुई। इस बार मानसून की मेहरबानी के बाद जिला तरबतर हो गया है। औसत की अब तक १३३ प्रतिशत बरसात हो चुकी है। जिले में बारिश का ६४९ औसत है। इसके मुकाबले ८६४ मिलीमीटर वर्षा हो चुकी है। लेकिन उमस कम होने का नाम नहीं ले रही। घरों में कूलर भी दोपहर में राहत नहीं दे रहे है। मातृकुंडिया के गेट खोलने के बाद बनास उफान पर है। मंगरोप और हमीरगढ़ से गुजर रही बनास नदी में पानी बहाव तेज हुआ है। एनीकटों पर चादर चल रही है। मेजा फीडर के गेज खोले जाने के बाद भी मेजा बांध का गेज साढ़े दस फीट ही बना हुआ है।

jaiprakash singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned