राशन डीलर्स को मिल गया बड़ा तोहफा

कोरोना काल में राज्य सरकार ने राशन डीलर्स को ई मित्र (ई-कियोस्क) का बड़ा तोहफा दिया है। राशन की दुकान पर ई मित्र कियोस्क खोले जाने से रसद सामग्री की सूची लगातार कम होने से परेशान राशन डीलर्स के लिए यह बड़ी राहत है। सरकार की घोषणा से जिले के ८३५ राशन डीलर्स लाभांवित हो सकेंगे।

By: Narendra Kumar Verma

Published: 23 May 2020, 12:26 PM IST

भीलवाड़ा। कोरोना काल में राज्य सरकार ने राशन डीलर्स को ई मित्र (ई-कियोस्क) का बड़ा तोहफा दिया है। राशन की दुकान पर ई मित्र कियोस्क खोले जाने से रसद सामग्री की सूची लगातार कम होने से परेशान राशन डीलर्स के लिए यह बड़ी राहत है। सरकार की घोषणा से जिले के ८३५ राशन डीलर्स लाभांवित हो सकेंगे।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत प्रदेश में संचालित उचित मूल्य की दुकानों पर गत पांच साल से रसद सामग्री की संख्या घटती जा रही है, उचित मूल्य की दुकानों पर अभी केवल गेहूं व चीनी का आवंटन का वितरण हो रहा है। वो भी चयनित परिवारों को। इनमें से भी गेहूं का वितरण पूरी तरह से सरकार ने निशुल्क कर रखा है। राशन डीलर्स रसद सामग्री की संख्या पन्द्रह में से मात्र दो-तीन रह जाने पर राज्य सरकार से राजकीय सेवा में शामिल किए जाने को लेकर लम्बे समय से मांग उठाए हुए थे। Ration dealers get big gift in bhilwara

राज्य सरकार ने उचित मूल्य दुकानदारों की आय में वृद्धि के लिए राजस्थान खाद्यान्न एवं अन्य आवश्यक पदार्थ (वितरण) का विनियमन आदेश के तहत शुक्रवार को उचित मूल्य दुकानों पर ई-मित्र केन्द्र स्थापित करने के सशर्त आदेश जारी किए। शर्तो के अनुसार उचित मूल्य दुकानदार स्वयं के स्तर पर ही सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा निर्धारित आवेदन पत्र में ही आवेदन करेगा।

ये होगी शर्ते
उचित मूल्य दुकानदार द्वारा सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा निर्धारित समस्त पात्रता शर्तो की अपने स्तर पर ही पूर्ण करना होगा। उचित मूल्य दुकानदार को सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ई-मित्र कियोस्क के लिए जारी समस्त दिशा.निर्देशों का पालन करना होगा। उचित मूल्य दुकानदारों को यह ध्यान रखना होगा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली का कार्य राशन वितरण का कार्य बाधित न हो। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग द्वारा ई-मित्र केन्द्र स्थापित करने में किसी भी प्रकार की वित्तीय, तकनीकी या अन्य कोई सहायता नहीं दी जाएगी। उचित मूल्य दुकानदारों द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के लिए उपलब्ध बजट राशि का उपयोग ईमित्र कियोस्क संचालन के लिए नहीं किया जाएगा। शर्तों की पालना नहीं करने की स्थिति में विभाग द्वारा उचित मूल्य दुकानदार का लाइसेंस नियमानुसार निरस्त किया जा सकेगा।

गांवों में मिलेगा दोहरा लाभ
उचित मूल्य की दूकान पर ई मित्र सेवा शुरु होने से राशन विक्रेताओं की आय मे बढोत्तरी होगी और दूर दराज के गांव, ढाणी में उनको सुविधा उपलब्ध हो जाएगी, लोगों को अनावश्यक कही भटकना नहीं पडेगा। पेंशन का भुगतान तथा नल व बिजली बिल, सभी तरह के प्रमाण पत्र उनको बिना भागदौड़ के स्थानीय स्तर पर उपलब्ध हो जाएगे और आम आदमी के समय और अनावश्यक खर्च से बचेंगे ।
संजय तिवाड़ी,जिलाध्यक्ष,आल इंडिया फेयर प्राइस शोप फेडरेशन भीलवाड़ा

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned