दो भूखण्ड की रजिस्ट्री और बैंक खाता सीज

कोटड़ी. ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के कम्प्यूटर ऑपरेटर और सवा दो करोड़ के घोटाले के मास्टरमाइंड गोपाल सुवालका को रिमाण्ड अवधि समाप्त होने पर मंगलवार को बड़लियास थाना पुलिस ने अदालत में पेश किया। जहां से जेल भेजने के आदेश दिए।

By: Akash Mathur

Published: 07 Sep 2021, 10:18 PM IST

भीलवाड़ा. कोटड़ी. ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के कम्प्यूटर ऑपरेटर और सवा दो करोड़ के घोटाले के मास्टरमाइंड गोपाल सुवालका को रिमाण्ड अवधि समाप्त होने पर मंगलवार को बड़लियास थाना पुलिस ने अदालत में पेश किया। जहां से जेल भेजने के आदेश दिए।

थानाप्रभारी राजेन्द्र ताड़ा ने बताया कि गोपाल सुवालका से पूछताछ में सामने आया कि फर्जीवाड़ा कर पत्नी के खाते में डाली रकम से एलएनटी मशीनें खरीदी। भूखण्ड खरीदा और रिश्तेदार को इंजीनियरिंग कराई। एलएनटी में घाटा लगा। उसे बाद में सीज कर भी ले गए। घोटाले की अर्जित आय से कोटड़ी में दो भूखण्ड खरीदे। इन भूखण्डों की रजिस्ट्री पुलिस ने सीज करवा दी। पत्नी के बैंक खाते को भी पुलिस ने सीज कर दिया है। आरोपी से रिकवरी शिक्षा विभाग करेगा।

उधर, रिमाण्ड अवधि समाप्त होने पर आरोपी को जेल भेज दिया गया।सुवालका के खिलाफ गेगा का खेड़ा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रिंसीपल चन्द्रसिंह राजपूत ने बड़लियास थाने में मामला दर्ज कराया था। शिक्षक का काल्पनिक नाम भरकर पत्नी के खाते में हर माह पगार उठाई गई। करीब बारह लाख रुपए के घोटाले का मामला बड़लियास थाने में दर्ज कराया गया था। आरोपी के खिलाफ साठ लाख के गबन का मामला कोटड़ी थाने में भी दर्ज है। कोटड़ी पुलिस मामले में प्रोडक्शन वारंट से गोपाल को हिरासत में लेगी।

Akash Mathur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned