पाइपलाइन के लिए अवाप्त भूमि को लेकर आपस में उलझे ग्रामीण

पाइपलाइन के लिए अवाप्त भूमि को लेकर आपस में उलझे ग्रामीण
माण्डल विधानसभा को चम्बल परियोजना से जोडऩे को डाली जा रही पाइप लाइन पर भी विवाद

Tej Narayan Sharma | Updated: 01 Jan 2018, 10:27:26 PM (IST) Bhilwara, Rajasthan, India

माण्डल विधानसभा को चम्बल परियोजना से जोडऩे को डाली जा रही पाइप लाइन पर भी विवाद

माण्डल।

भीलवाड़ा-अजमेर राष्ट्रीय राजमार्ग को सिक्स लेन बनाने के लिए अवाप्त भूमि के मुआवजे को लेकर बवाल के बाद अब माण्डल विधानसभा को चम्बल परियोजना से जोडऩे को डाली जा रही पाइप लाइन पर भी विवाद हो गया है। पेयजल लाइन के लिए अवाप्त भूमि के सीमांकन के बावजूद भूमि मालिक आपस में उलझ गए हैं। सोमवार को भी अवाप्त भूमि के सीमांकन को लेकर ग्रामीण आपस में उलझे थे।

 

READ: शाहाकारी जीवन अपना जाति—पाति के बंधन से ऊपर उठो

 

सूचना पर मांडल चौकी पुलिस व चम्बल परियोजना के अधिकारी मौके पर पहुंचे तथा लोगों को शांत किया। लाइन डालने के लिए जिन दुकानदारों की भूमि अवाप्त की वो अपनी शेषनाम मात्र की जगह को बचाने की मशक्कत कर रहे हैं। जबकि इन दुकानदारों के ठीक पीछे रहने वाले ग्रामीण फ्रंट पर आने के लिए उन दुकानदारों की शेष बची जमीन को खुर्दबुर्द करने पर आमदा हैं। कई जगह पर भूमि अवाप्त के बाद भी नाममात्र की भूमि पर बने भवन को गिरा कर आगे आने के लिए अधिकारियों व प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं।

 

READ: गश्ती दल ने युवक को रोका तो जांच में निकला वाहन चोर, बुलेट चोरी का राज खुला

 

परियोजना के अधिशाषी अभियन्ता अरूण ऐरन ने बताया कि राजमार्ग के बीच में 28 से 30 मीटर की दूरी पर चम्बल परियोजना को जोडऩे के लिए लाइन डाली जानी है। रविवार को भी ग्रामीणों में झगड़ा हो गया था। जिस पर उपखण्ड अधिकारी सीएल शर्मा व थाना प्रभारी दिनेश कुमावत मौके पर पहुंचे तथा दूरी को नाप कर दोनों पक्षों में समझाइश कराई।

 

संयम रखे ग्रामीण

पाइप लाइन के लिए जिन लोगों की भूमि अवाप्त की गई है उनको मुआवजा राशि मिल रही है। जो बच गए हैं उन्हें भी शीघ्र ही मुआवजा राशि दिलाएंगे। कार्य नियमानुसार हो रहा है। ग्रामीण संयम रखे।

सीएल शर्मा, उपखण्ड अधिकारी, माण्डल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned