एमजीएच को सौंपी सेनेटाइजर मशीन

अस्पताल के गेट पर ही सेनेटाइज होगा

By: Suresh Jain

Updated: 10 Apr 2020, 09:21 AM IST

भीलवाड़ा .

महात्मा गांधी चिकित्सालय में आने वाला हर रोगी व उसका परिजन अस्पताल के गेट पर ही सेनेटाइज होगा। इसके लिए अस्पताल प्रशासन ने समाजसेवी के सहयोग से अस्पताल के आपातकालीन कक्ष के बाहर ऑटोमेटिक सेनेटाइजर मशीन स्थापित की है। इसमें प्रवेश करते ही फव्वारों के माध्यम से दवा निकलेगी जो व्यक्ति को कीटाणु मुक्त करेगी। इस मशीन को चांद जी लाइट डेकोरेशन के संचालक असलम ने तीन दिन में तैयार किया है। मशीन के गुरुवार को पिता-पुत्र ने यह मशीन अस्पताल प्रशासन के सुपुर्द कर दी। मशीन भेंट करने के बाद दवा को स्टोर करने के लिए दादाबाड़ी निवासी अंबालाल पटेल ने एमजीएच साईकल स्टैंड संचालक कैलाश पटेल की प्रेरणा से लोहे का ड्रम भेंट किया। मशीन निर्माता मोहमद असलम ने बताया कि चार दिन पहले महात्मा गांधी हॉस्पिटल से मेलनर्स लक्की व्यावट सेनेटाइजेशन के लिए पंखे बनाने की बात करने आए थे। तब हमने उनको पंखे की बजाय सेनेटाइजेशन मशीन बनाकर देने का वादा किया और तीन दिन में बनाकर मशीन को दान कर दी है। इस मशीन को बनवाने व स्थापित करवाने में नर्सेज पवन नागौरी, महेंद्र सिंह राठौड़, मुन्ना लाल शर्मा का सहयोग रहा। अब मशीन के माध्यम से हर व्यक्ति पर सेनेटाइजर का छिड़काव हो सकेगा।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned