घर पर नाई को बुलाकर करवा रहे शेविंग व कटिंग

हेयर कटिंग की दुकानें बंद,

By: Suresh Jain

Published: 10 May 2020, 04:03 AM IST


भीलवाड़ा . कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान हेयर कटिंग की दुकानें बंद चल रही हैं। ऐसे में कोई घर पर ही अपनी शेविंग कर रहा है तो कोई स्टाइलिश दाढ़ी और बाल बढ़ा रहा है। कई लोग घरों पर ही नाई को बुलाकर शेविंग व कटिंग करवा रहे हैं। हालांकि इन ५० दिनों में घरों में ही कैद पुरुषों का हुलिया भी बिगडऩे लगा है। दाढ़ी काफी बढ़ गई है तो सिर के बाल भी बेतरतीब हो गए है। इसका हल भी भारत में पुरातन काल से चली आ रही परंपरा में मिल गया है। पहले नाई एक पेटी लेकर घर-घर जाकर लोगों की दाढ़ी कटिंग करते थे। और इन दिनों भी समाज के लोग यहीं कर रहे हैं। अब तरीका थोड़ा बदल गया है। पेटी की जगह बैग ने ले ली है और कैची की जगह इलेक्ट्रॉनिक उपकरण आ गए हैं।
लॉकडाउन के दौरान बाजार बंद चल रहा है। हेयर कटिंग की दुकानें भी बंद हैं। इससे नाई की दुकानों का कारोबार ठप हो गया है। आम लोगों को परेशानी हो रही है। ऐसे में कुछ लोग तो आसपास मौजूद कटिंग करने वाले को घर पर बुला लेते हैं तो कुछ लोगों ने अपने घर पर शेविंग कर रहे है। कोई अपने परिजनों से शेविंग करा रहा है, हालांकि कटिंग नहीं होने से कुछ लोग अब स्टाइलिश बाल बढ़ा रहे हैं। इसमें कुछ लोगों को दाढ़ी की शेविंग करने में परेशानी हो रही है, तो कुछ लोग इसकी चिंता किए बिना दाढ़ी बढ़ा रहे हैं। इस संबंध में जब लोगों की राय ली गई तो उन्होंने लॉकडाउन को जरुरी बताते हुए कहा कि सेहत जरुरी है, इसलिए घर पर ही रुककर अपने काम अब खुद ही कर लेते हैं।
घर पर नाई को बुलाना खतरा
कई लोग अपने परिचित नाई को घर पर बुलाकर शेविंग व कङ्क्षटग करवा रहे है। इससे संक्रमण का खतरा भी बढ़ रहा है। क्योंकि नाई के पास जो सामान है वह सेनेटाइज है या नहीं इससे हर व्यक्ति अंजान है। ऐसे में खतरा बढ़ सकता है। डिप्टी सीएमएचओ डॉ. घनश्याम चावला का कहना है कि नाई को घर पर नहीं बुलाए। होती कोशिश अपने हाथों से ही सेविंग बनाने का प्रयास करें। फिर भी मजबूरी में नाई को बुलाते है तो सारा सामान स्वयं का होना चाहिए वह भी पूरी तरह से सेनेटाइज किया हुआ था। नाई के हाथ में दस्ताने, मुह पर मास्क हो। इसके अलावा सुरक्षा का पूरा ध्या रखना चाहिए।
रामकिशन का कहना है कि लॉकडाउन हमारी ही भलाई के लिए लागू किया गया है, जो कोरोना वायरस से सुरक्षा कवच है। बाजार बंद होने के कारण शेविंग करने में परेशानी हो रही है, लेकिन घर पर रहकर ही किसी तरह शेविंग कर लेते हैं। लॉकडाउन खुलने के बाद सब सामान्य हो जाएगा तो परेशानी भी कम हो जाएंगी। राजपुरोहित का कहना है कि लॉकडाउन के कारण हेयर कटिंग की दुकानें बंद है। इससे परेशानी बढ़ गई है। इससे दाढ़ी बड़ी हो रही है, लेकिन दुकान बंद हैं, इसलिए घर वाले भी ज्यादा कुछ नहीं कहते हैं। दाढ़ी ज्यादा बढ़ी होने से परेशानी तो होती ही है। अक्षय मिश्रा ने बताया कि लॉकडाउन में घर पर रहकर ही एंजॉय कर रहे हैं। दुकानें बंद हैं तो दो सप्ताह में ही दाढ़ी बना लेते हैं। अब घर पर हैं और कहीं जाना तो है नहीं, इसलिए शेविंग करने की अधिक चिंता नहीं रहती है। जरुरी हुआ तो पास में रहने वाले नाई को बुलाकर कटिंग करा लेते हैं।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned