भीलवाड़ा में बजरी माफियाओं से सांठगांठ के आरोप में एसएचओ सस्पेंड

बजरी माफियाओं के साथ सांठगांठ कर कमाई का खेल करने के आरोप में हनुमान नगर थाना प्रभारी रामकिशन गोदारा व कांस्टेबल महेन्द्र सिंह को अजमेर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक हवासिंह घुमरिया ने शुक्रवार को निलम्बित कर दिया, जबकि सात अन्य पुलिस कर्मियों को थाने से हटाते हुए रिजर्व पुलिस लाइन भेज दिया गया। निलंबित किए गए पुलिस निरीक्षक गोदारा व कांस्टेबल सिंह का निलम्बन कार्यकाल के दौरान मुख्यालय जिला नागौर रहेगा।

By: Narendra Kumar Verma

Published: 17 Oct 2020, 12:56 PM IST

भीलवाड़ा में बजरी माफियाओं से सांठगांठ के आरोप में एसएचओ सस्पेंड

भीलवाड़ा। बजरी माफियाओं के साथ सांठगांठ कर कमाई का खेल करने के आरोप में हनुमान नगर थाना प्रभारी रामकिशन गोदारा व कांस्टेबल महेन्द्र सिंह को अजमेर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक हवासिंह घुमरिया ने शुक्रवार को निलम्बित कर दिया, जबकि सात अन्य पुलिस कर्मियों को थाने से हटाते हुए रिजर्व पुलिस लाइन भेज दिया गया। निलंबित किए गए पुलिस निरीक्षक गोदारा व कांस्टेबल सिंह का निलम्बन कार्यकाल के दौरान मुख्यालय जिला नागौर रहेगा। अवैध बजरी के मामले में संदिग्ध भूमिका होने पर आईजी की इस कार्रवाई से पुलिस महकमे में खलबली मची हुई है। बजरी माफियाओं के साथ सांठगांठ के आरोप में थाना प्रभारियों के खिलाफ एक माह में यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है।

अजमेर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक हवासिंह घुमरिया ने बताया कि दस दिन पूर्व अवैध बजरी दोहन में लिप्त लोगों के साथ हनुमाननगर थाना प्रभारी रामकिशन गोदारा व अन्य पुलिस कर्मियों की सांठगांठ होने की शिकायत मिली। इस पर देवली में तैनात एएसपी (प्रशिक्षु आईपीएस) को जांच सौंपी गई। जांच रिपोर्ट के आधार पर थाने में तैनात सात पुलिस कर्मियों को तलब कर उनसे पूछताछ की गई। पूछताछ में पुलिस कर्मियों ने बताया कि थाना प्रभारी रामकिशन गोदारा की शह पर बजरी माफिया थाना क्षेत्र में अवैध दोहन कर रहे है तथा उनके वाहन दौड़ रहे है। इसमें कांस्टेबल महेन्द्र सिंह की भूमिका अहम है, वही कुछ पुलिस कर्मियों ने एक दूसरे के खिलाफ भी आरोप प्रत्यारोप लगाए। घुमरिया ने बताया कि समूचे मामले में थाना प्रभारी गोदारा व महेन्द्र सिंह की संलिप्ता प्रथम दृष्टया पाए जाने पर उन्हें निलंबित कर दिया।

दीवान समेत सात लाइन हाजिर
आईजी के निर्देश पर शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक ने एक हैड़ कांस्टेबल समेत छह पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया। इनमें हैड कांस्टेबल कालूराम, कांस्टेबल महेन्द्र, सीताराम, सुरेश कुमार,महेन्द्रवीर, लोकेश कुमार व रामावतार शामिल है। इससे पूर्व भी थाना के एक प्रभारी को भी बजरी के मामले में ही हटाया गया था।

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned