मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल से श्रमिकों को नहीं मिल रहा काम

मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल के चलते जिले की 384 पंचायतों में से 200 में श्रमिकों को काम नहीं मिल रहा है

By: tej narayan

Published: 16 May 2018, 05:14 PM IST

भीलवाड़ा।

मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल के चलते जिले की 384 पंचायतों में से 200 में श्रमिकों को काम नहीं मिल रहा है। इन पंचायतों में काम काज ठप पड़ा है। 184 पंचायतों में भी आसीन्द की 24 पंचायतों में ही थोड़ा काम चल रहा है। सरकारी मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर के विधानसभा माण्डल की 46 पंचायतों में से मात्र 22 में काम चल रहा है।

 

READ: गुलाबपुरा मिल के श्रमिकों की नौकरी पर फिर संकट, 189 कर्मचारियों के कॅरिअर पर लटकी तलवार

 

यहां मात्र 2754 श्रमिकों को काम मिल रहा है। मुख्यमंत्री की बजट घोषणाओं के काम पर भी असर होने लगा है। गए तीन दिन में लगभग दस हजार से अधिक श्रमिकों की संख्या और कम हो गई है। 15 मई को मात्र 49 हजार श्रमिक की काम पर थे। पिछले साल इनकी संख्या सवा लाख से भी अधिक थे। उधर मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल के तहत ब्लॉक स्तर घरना जारी रहा।

 

READ: नगर परिषद में सभापति व आयुक्त के बीच खींचतान का शहर के विकास में क्या पड़ा असर, जानकर चौक जाएंगे आप


जिले की 200 पंचायतों में ग्राम रोजगार सहायक कार्यरत है। ये सभी हड़ताल पर हैैं। इनके कारण नए मस्टररोल तक जारी नहीं हो पा रहे हैं। 184 पंचायतों में कनिष्ठ लिपिक हैं। एक-एक कर्मचारी के पास भी 4 से 5 पंचायत है। जहां मस्टररोल जारी हुए है। नए मस्टररोल 16 मई को जारी होने है, लेकिन हड़ताल से इसे लेकर अधिकारियों मेंं संशय है।

 

काम होने लगे प्रभावित
मुख्यमंत्री के बजट घोषणा के तहत विभिन्न कार्य मनरेगा योजना के तहत होने थे। लेकिन वह सभी कार्य भी प्रभावित होने लगे है। मुख्यमंत्री ने वर्मी कंपोस्ट, सड़क किनारे वृक्षारोपण कार्य, श्मशान घाट विकास कार्य, आंगनबाड़ी भवन निर्माण कार्य करवाने की घोषणा की थी।


बजट घोषणा के सभी कार्य महात्मा गांधी नरेगा योजना व संबंधित विभाग से कन्वर्जेंस कर किए जाने हैं। सरकार से कोई अतिरिक्त बजट नहीं दिया गया है। सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के कार्य भी मनरेगा कार्मिकों की हड़ताल पर चले जाने से प्रभावित हो रहा है। कार्मिकों की हड़ताल 30 अप्रेल से जारी है। यह सभी कर्मचारी अपने ब्लॉक के बाहर धरना देकर प्रदर्शन कर रहे है। पंचायत राज अधीनस्थ सेवा भर्ती एलडीसी भर्ती 2013 के संबंध में सरकार की ओर से कोई ठोस कार्रवाई नहीं किए जाने से परेशान होकर सभी कर्मचारी हड़ताल पर है। बजट घोषणा के तहत जिले में लगभग 5628 कार्य स्वीकृत किए थे। उनमें से लगभग 517 कार्य ही पूर्ण किए गए है।

tej narayan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned