घरों के बाहर झुंड मतलब खतरे को न्योता

आजादनगर में घरों के बाहर बैठ रहते हैं लोग

By: Suresh Jain

Published: 23 Apr 2020, 01:04 AM IST

भीलवाड़ा।
लगातार तीसरे दिन बुधवार को भी बड़ी संख्या में लोग बेवजह घरों से बाहर आए। सुबह सड़कों पर चहलकदमी ज्यादा बढ़ी नजर आई। शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर पुलिस है, लेकिन ज्यादा सख्ती से पेश नहीं आ रही। शहर की सड़कों पर वाहन व लोगों की संख्या बढ़ गई है। बुधवार सुबह ९ बजे आजादनगर के बी व सी सेक्टर में हर घर के बाहर लोग बैठे नजर आए। कुछ लोग खड़े होकर बतियाते नजर आए। इस दौरान सोशल डिस्टेंस का ध्यान नहीं रखा जा रहा था। यह कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन है।
इधर, अधिकारियों की हिदायत है कि लोग बेवजह घरों से न निकलें। अति जरूरी कार्य हैं या आपात स्थिति हैं तो पास बनवा कर ही घरों से निकलें। स्वास्थ्य विभाग की टीम आजादनगर व जवाहरनगर के घरों में पंहुची। पूछा कि किसी को सर्दी खांसी तो नहीं। फिर रवाना हो गई।
६ माह की जेल
लॉकडाउन के बाद लोग घरों से निकल रहे हैं। ऐसे में प्रशासन को सख्त कदम उठाने होंगे। शहर में ऐसी धारा लगाई है, जिन्हें तोडऩे पर कार्रवाई भी हो सकती है। इन धारा के छह माह के लिए जेल भेजा जा सकता है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned