झारखंड से मजदूरी के लिए आईं दो किशोरियों से ठेकेदार और तीन अन्य साथियों ने किया गैंगरेप

झारखंड से मजदूरी के लिए आईं दो किशोरियों से ठेकेदार और तीन अन्य साथियों ने किया गैंगरेप

abdul bari | Publish: May, 18 2019 08:15:32 AM (IST) Bhilwara, Bhilwara, Rajasthan, India

- नौ दिन पहले चंगुल से भागी

- छह माह से कर रहे थे यौन शोषण

- भोपाल में स्वयंसेवी संगठन ने कराया मुकदमा दर्ज

- मांडल पुलिस ने जांच शुरू की

भीलवाड़ा.
भीलवाड़ा-अजमेर नेशनल हाइवे पर निर्माणाधीन फैक्ट्री में मजदूरी के लिए झारखण्ड से आई दो आदिवासी किशोरियों के साथ ठेकेदार और उसके तीन साथियों ने छह माह पहले सामूहिक दुष्कर्म किया। उसके बाद चारों लगातार मारपीट कर दोनों का यौनशोषण करते रहे। गत 9 मई को दोनों ठेकेदार के चंगुल से फरार होकर भोपाल पहुंच गई। वहां एक स्वयंसेवी संगठन के सम्पर्क मे आने के बाद दोनों के साथ दुष्कर्म और यौनशोषण का खुलासा हुआ। इस पर भोपाल के महिला थाने में स्वंयसेवी संगठन की पदाधिकारी ने मुकदमा दर्ज कराया। वहां से जीरो नम्बरी की एफआईआर आने के बाद भीलवाड़ा के मांडल थाने में ठेकेदार समेत चार जनों के खिलाफ मामला दर्जकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पीडि़ताओं को लाने के लिए भीलवाड़ा से एक पुलिस टीम भोपाल गई है।

पुलिस ने बताया कि भीलवाड़ा-अजमेर हाइवे पर स्थित एक फैक्ट्री का निर्माण कार्य चल रहा है। यहां निर्माण कार्य के लिए करीब एक साल पहले उडी़सा का ठेकेदार मोंटू झारखण्ड से दो आदिवासी किशोरियों को मजदूरी के लिए भीलवाड़ा लाया था। ये किशोरियां फैक्ट्री परिसर में बनी झौपड़ी में रहती थी। किशोरियों का आरोप है कि करीब छह माह पहले ठेकेदार मोंटू, चंद्रप्रकाश और दो अन्य ने दोनों के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद अक्सर रात को चारों दोनों के साथ मारपीट और जान से मारने की धमकी देकर उनका यौनशोषण करते। ठेकेदार उन्हें मजदूरी भी नहीं दी।

गत 9 मई को दोनों मौका देखकर फैक्ट्री से फरार हो गई। दोनों ट्रेन से चित्तौड़गढ़ होते हुए भोपाल पहुंच गई। भोपाल में गौरवी वन स्टॉफ सेंटर की समन्वयक शिवानी सैनी से मुलाकात हुई। सैनी को उन्होंने आपबीती सुनाई। इसके बाद देहाती नालसी महिला थाने में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। भोपाल पुलिस ने दोनों किशोरियों का मेडिकल मुआयना कराने के बाद जीरो नम्बरी की एफआईआर मांडल थाने में भेजी। जहां चारों आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट में प्रकरण दर्ज किया गया। मांडल पुलिस ने पीडि़ताओं को लाने के लिए एक टीम भोपाल भेजी है। मामले की जांच प्रशिक्षु आरपीएस अदिति चौधरी को सौंपी गई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned