scriptThe child received the sage of Muni Vidyasagar Maharaj | बालक ने प्राप्त की मुनि विद्यासागर महाराज की पिच्छी | Patrika News

बालक ने प्राप्त की मुनि विद्यासागर महाराज की पिच्छी

पिच्छिका परिवर्तन कार्यक्रम में उमड़ा जैन समाज

भीलवाड़ा

Updated: November 08, 2021 08:47:09 am

भीलवाड़ा।
12 वर्ष के बालक अर्हम सेठी की धर्म के प्रति निष्ठा से जब रमेश, विकास सेठी परिवार को निर्यापक मुनि विद्यासागर महाराज की पुरानी पिच्छिका प्राप्त हुई, तो पूरी विद्यासागर वाटिका जयकारों से गूंज उठी। सेठी परिवार व उनके साथी परिवार के सदस्य खुशी से झूम उठे व नाचने लगे। अवसर था चातुर्मास के बाद दिगम्बर जैन संतो के पीच्छी परिवर्तन का। आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर के तत्वावधान में रविवार को विद्यासागर वाटिका में आयोजित पिच्छिका परिवर्तन कार्यक्रम में मुनियों ने मयूर पंख की पुरानी पीच्छी को त्याग कर नई पीच्छी ग्रहण की। मुनि शांतिसागर महाराज की पीच्छी महावीर सेठी ने तथा मुनि प्रशांत सागर महाराज की पीच्छी चैनसुख शाह, आशीष शाह, अशुल शाह ने प्राप्त की। मुनि विद्यासागर, मुनि शान्तिसागर व मुनि प्रशांत सागर को नई पिच्छी समाज के लोगों ने दी।
विद्यासागर वाटिका में आयोजित समारोह में श्रावक-श्राविकाओं, बच्चों ने भक्ति संगीत के साथ नृत्य करते हुए विद्या सागर महाराज ससंघ की पूजा की। ट्रस्ट अध्यक्ष नरेश गोधा ने पूरे दिगम्बर जैन समाज व आरके कॉलोनी मंदिर ट्रस्ट की ओर से चातुर्मास के दौरान किसी भी भूल या गलती के लिए मुनि से क्षमायाचना की।
इस अवसर पर निर्यापक मुनि विद्यासागर महाराज के कहा कि चातुर्मास के दौरान की गई धर्म साधना, संयम, व्रत तो बीज हैं। लेकिन बीज मात्र बीज ही नहीं उसमें पेड़ बनने की ताकत है। जैन धर्म में मात्र भक्ति करना ही नही भगवान बनाना सिखाया जाता है। संतों का सानिध्य भक्ति के बीज को पानी देने का कार्य करता है। भीलवाड़ा जैन समाज के समर्पण की प्रशंसा करते हुए कहा कि यहीं विराम नही लगा कर निरंतर आगे बढऩे की साधना करते रहो। मुनि प्रशान्तसागर महाराज ने कहा कि साधन से नहीं साधना से ही मुक्ति मिल सकती है।
कार्यक्रम के दौरान चातुर्मास में समर्पित दो दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओ का सम्मान किया गया। इनमें राजकुमार सेठी, खेमराज कोठारी, सुभाष हुमड़, पवन कोठारी, अपूर्व कोठारी, टीकम चन्द कासलीवाल, राजेश विनायका, भागचन्द लुहाडिय़ा आदि शामिल थे। बापूनगर स्थित पदम प्रभू दिगम्बर जैन मंदिर के संचिव पीसी सेठी ने १० से १२ नवम्बर तक होने वाले वेदी प्रतिष्ठा महोत्सव के लिए मुनि को श्रीफल भेट किया। महिला मंडल ने मंगलाचरण किया। आदिनाथ संस्कार पाठशाला के बच्चों व बालिकाओं ने पूमन कोठारी, सुनिता बाकलीवाल, जम्बू पाटनी के साथ भक्ति नृत्य किया।
कार्यक्रम में विधायक वि_ल शंकर अवस्थी, नगर परिषद सभापति राकेश पाठक, पार्षद मोहित लक्षकार, रेखापूरी के साथ भोपाल, जबलपुर, सांगली, जयपुर, किशनगढ़, बिजयनगर, चित्तौड़, मंदसौर आदि स्थानों के समाज जन ने भी भाग लिया। संचालन अमित शास्त्री व महेन्द्र सेठी ने किया।
बालक ने प्राप्त की मुनि विद्यासागर महाराज की पिच्छी
बालक ने प्राप्त की मुनि विद्यासागर महाराज की पिच्छी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारCorona Vaccination: देश में 8 टीकों को मंजूरी के बावजूद लगाए जा रहे सिर्फ 3, जानें बाकी का क्या है स्टेटसपीएम मोदी आज ब्रह्मकुमारियों के 'आजादी का अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर' अभियान श्रृंखला का शुभारम्भ करेंगेओमिक्रोन वायरस के इलाज में कौन सी दवा है सही, जानिए WHO की गाइडलाइनबोर्ड ने दी बड़ी सुविधा, 10 वीं और 12 वीं की प्री बोर्ड परीक्षार्थियों को मिली रियायतआर्थिक संकट के बावजूद गहलोत सरकार के ठाठ-बाट में कमी नहीं, मंत्रियों के लिए खरीदी 30 लग्जरी गाड़ियांVideo Corona Alert: हल्के में ना लें तीसरी लहर... बडे कम्युनिटी स्प्रेड में कोरोना संक्रमणRAJASTHAN विधानसभा का Budget सत्र, भाजपा 'लॉ एंड आर्डर' के मुद्दे पर करेगी 'ATTACK '
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.