scriptThe officers are not staying, then how will the sewerage work be done | bhilwara sewerage work अफसर ही नहीं टिक रहे, फिर कैसे होगा सीवरेज वर्क | Patrika News

bhilwara sewerage work अफसर ही नहीं टिक रहे, फिर कैसे होगा सीवरेज वर्क

वस्त्रनगरी में सीवरेज परियोजना के कार्य को संभाले जिम्मेदार राजस्थान शहरी आधारभूत विकास परियोजना (रूडिप) में टिक नहीं पा रहे है। सरकार ने चार साल में परियोजना में पांच अधीक्षण अभियंता बदल दिए, अधिशासी अभियंता व सहायक अभियंताओं की सूची तो लम्बी है। The officers are not staying, then how will the sewerage work be done? bhilwara sewerage work

भीलवाड़ा

Published: January 12, 2022 05:19:01 pm

नरेन्द्र वर्मा...भीलवाड़ा। वस्त्रनगरी में सीवरेज परियोजना के कार्य को संभाले जिम्मेदार राजस्थान शहरी आधारभूत विकास परियोजना (रूडिप) में टिक नहीं पा रहे है। सरकार ने चार साल में परियोजना में पांच अधीक्षण अभियंता बदल दिए, अधिशासी अभियंता व सहायक अभियंताओं की सूची तो लम्बी है। सब कॉंटेक्टर भी बीच में बदल दिए गए है। इतना ही नहीं सरकार ने नगर परिषद के अधिशासी अभियंताओं को भी यहां का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा, लेकिन रूडिप उन पर भी ज्यादा समय तक भरोसा नहीं कर सकी। हालात यह है कि मार्च 2021 में समाप्त होने वाला सीवरेज कार्य शहर में अभी तक जारी है।
The officers are not staying, then how will the sewerage work be done?
The officers are not staying, then how will the sewerage work be done?

बदले रहे है अधीक्षण अभियंता
शहर में 325 करोड़ की लागत सीवरज प्लांट का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने पहले कार्यकाल में जुलाई 2018 में जयपुर में आयोजित लाभार्थी सम्मेलन में वर्चुअल शिलान्यास किया था। हालांकि निर्माण कार्य 23 अगस्त 2017 से ही शुरू हो गया था। राज्य सरकार ने निर्माण कार्य को व्यवस्थित रूप से गति देने के लिए रूडिप के अधीक्षण अभियंता सुधीर मिश्रा की नियुक्ति की, उनका कार्यकाल अभी तक के अधीक्षण अभियंताओंं में सर्वाधिक रहा। वह नवम्बर 2017 से मार्च 2019 तक रहे। इसके बाद दो साल में तीन अधीक्षण अभियंता बदल गए। देवेश शर्मा मार्च 2019 से अक्टूबर 2020 तक रहे। उनके बाद डीके मित्तल का कार्य काल महज छह माह का रहा। वह अक्टूबर 2020 से अप्रेल 2021 तक रहे।
नगर परिषद पर जताया था भरोसा

रूडिप ने सीवरेज कार्य की मंथर गति को बढ़ाने व कोरोना के विकट हालात को देखते हुए नगर परिषद भीलवाड़ा पर ही भरोसा जताया। परिषद के अधिशासी अभियंता सूर्यप्रकाश संचेती को अधीक्षण अभियंता पद की जिम्मेदारी दी। संचेती ने अप्रेल २०२१ में कार्यभार संभाला और शहर में कोरोना संकट काल में भी सीवरेज कार्य को व्यवस्थित कर गति दी। लेकिन रूडिप को संचेती भी रास नहीं आए और रूडिप के अधिशासी अभियंता अनिल विजयवर्गीय को ही १३ दिसम्बर २०२१ को अधीक्षण अभियंता का अतिरिक्त कार्यभार सौंप दिया।
एईएन के पद रिक्त, काम प्रभावित

रूडिप में लगातार अधीक्षण अभियंताओं के साथ ही अधिशासी अभियंता व सहायक अभियंताओं के तबादलों से हुई उठापठक से शहर में सीवरेज कार्य व्यवस्थित तरीके से गति नहीं पकड़ पाया। यहां रूडिप में गत दो साल से अधिशासी अभियंता के पद ही खाली है। सहायक अभियंता भी संख्या भी नहीं बढ़ सकी। रूडिप की रिपोर्ट कार्ड बताती है कि शहर के बाहरी, मुख्य मार्गों, नालों आदि क्षेत्र में भी काम अभी भी 25 फीसदी अधूरा है।
मलबा शहर को कर रहा परेशान
शिकायतें है कि दीपावली पर्व पर शहर में सीवरेज की उधड़ी सड़कों पर करवाया पेच वर्क फिर उधड गया है। इसी प्रकार शहर मेंं सीवरेज पाइप लाइन की खुदाई के दौरान खोदी जा रही सड़कों से उठाया जा रहा मलबा भी सुरक्षित स्थलों पर नहीं डाला जा रहा है। यहीं कारण है कि अभी शहर में गांधी सागर तालाब रोड, हरीशेवा धाम के पीछे, केशव होस्पिटल के निकट, शास्त्रीनगर में अरिहंत होस्पिटल के निकट अव्यवस्थित तरीके से फेंका जा रहा है। इससे क्षेत्र के लोग परेशान है और आवाजाही भी प्रभावित हो रही है।
यह हो चुका काम
शहर में 30 दिसम्बर 2021 तक आरयूडीआईपी के तहत 410 किमी में से 350 किलोमीटर की दूरी में पाइपलाइप बिछ चुकी है। 30 एमएलडी का एसटीपी एसटीपी सीवरेज प्लांट कुवाड़ा में बन चुका है। य्इसी प्रकार 48 एमडी का पम्पिंग स्टेशन का निर्माण कार्य आरसी व्यास नगर में कोटा रोड पर पूर्ण हो चुका है। इसी प्रकार प्रायोगिक रूप में पांच सीवर कनेक्शन घरों में हो चुके है।

होली तक होगा काम पूर्ण

सीवरेज परियोजना का कार्य आबादी क्षेत्र में अंतिम चरण में है, शहर में मेन रोड इंटरलिंक व जंक्शन, क्रोसिंग समेत क्रिटिकल काम को तेजी से करने का प्रयास किया जा रहा है, होली तक कार्य होने के प्रयास रहेंगे। कोरोना संकट फिर गहराने से श्रमिकों की समस्या बढ़ गई है।
अनिल विजयवर्गीय, अधीक्षण अभियंता, रूडिप

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

SC-ST को आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, राज्य तय करें प्रमोशन का पैमानामहाराष्ट्रः सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी के 12 विधायकों का निलंबन असंवैधानिक बताते हुए रद्द कियाBrahMos Missiles: भारत से ब्रह्मोस मिसाइल खरीद रहा फिलीपींस, 37.5 करोड़ डॉलर की डील पर लगी मुहरData Privacy Day: सस्ता स्मार्टफोन इस्तेमाल करना पड़ सकता है महंगा, एक्सपर्ट ने बताई वजहNeoCov: ओमिक्रॉन के बाद सामने आया कोरोना का नया वैरिएंट 'नियोकोव' और भी खतरनाकBSP Candidate List: बसपा ने जारी की 53 उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट, लखनऊ की नौ सीटों में चार मुस्लिम, दो कायस्थ और एक ब्राह्मण प्रत्याशीRRB NTPC Student Protest : रेलवे का अलर्ट, यूपी के कई जिलों में चौकसी बढ़ीBrahMos Missiles: भारत से ब्रह्मोस मिसाइल खरीद रहा फिलीपींस, 37.5 करोड़ डॉलर की डील पर लगी मुहर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.