भीलवाड़ा में चुनाव से पहले गांवों में हो रहा यह काम जो बाद में पड़ेगा भारी

patrika.com/rajsthan news


भीलवाड़ा. पंचायतराज चुनाव नजदीक आते ही गांवों में रेवडि़यां बंटने लगी हैं। पंचायत समितियों में पट्टा बुक जमा होने से पहले मनमर्जी से पट्टे आवंटित किए जाने लगे हैं। चुनाव से पहले गांवों में लोगों ने सरकारी जमीनों पर कब्जे करने शुरू कर दिए हैं। अभी कोई अस्थाई तौर से पत्थर डलवा रहा है, तो कोई केबिन रखकर जगह रूंद रहा है। एेसे में चुनाव आचार संहिता लगने पर सरकारी मशीनरी व्यस्त होने की आड़ में वहां अवैध निर्माण शुरू कर देंगे। वर्ष २०२० के शुरुआत में ही पंचायतीराज के चुनाव हैं। एेसे में ग्राम पंचायतों के सरपंच अपने चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए मनमर्जी से पट्टे बनाने लगे हैं। हालांकि कई पंचायत समितियों ने अभी से पट्टा बुकों पर निगरानी शुरू कर दी है। इसके बावजूद कई ग्राम पंचायतें एेसी हैं, जहां मनमर्जी हो रही है।
रख दी केबिन
बागोर पंचायत में गंगापुर रोड पर लोगों ने अवैध रूप से सड़क किनारे केबिनें रख दी हैं। इसी तरह ग्राम पंचायत के आस-पास भी लोगों ने मनमर्जी से पक्के निर्माण कर लिए हैं। गंगापुर रोड स्थित सरकारी स्कूल के खेल मैदान पर भी लोग पत्थर डाल कब्जे कर रहे हैं।
स्कूल के बाहर कब्जा
गुलाबपुरा उपखंड में रूपाहेली कलां के पास कुछ लोगों ने देबीपुरा में सरकारी स्कूल के बाहर केबिनें रख दी हैं। कुछ दिन बाद पक्का निर्माण कर लिया जाएगा। इसकी शिकायत भी हुई, लेकिन किसी ने ध्यान नहींं दिया। इस बारे में स्कूल के प्राचार्य को भी बताया, लेकिन वे भी सुनवाई नहीं कर रहे हैं।
जमा होगी पट्टा बुक
पंचायतीराज चुनाव से पहले सभी ग्राम पंचायतों की पट्टा बुकें पंचायत समितियों में जमा हो जाएंगी। सचिवों के जब तबादले हुए थे, तब से रिकॉर्ड का लेनदेन नहीं होने से काम अटका है। सुवाणा पंचायत समिति की पेराफेरी की पंचायतों में भी यही हाल है। यहां भी सचिवों को लगाने में मनमर्जी की गई है।
----------
बिलानाम, चरागाह या पंचायत की आबादी भूमि पर अवैध रूप से कब्जों की सूचियां तैयार हो जाएंगी। अवैध कब्जे हटेंगे। कोई पत्थर डाल रहा है, तो प्रशासन इन्हें जब्त करेगा।
राजेंद्र भट्ट, जिला कलक्टर

jasraj ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned