कोरोना संक्रमित दो रोगियो ने भीलवाड़ा व एक ने उदयपुर में दम तोड़ा

मृतकों की संख्या बढ़कर 14 हुई

By: Suresh Jain

Published: 03 Aug 2020, 01:02 AM IST

भीलवाड़ा।
कोरोना संक्रमित तीन जनों की शनिवार देर रात को मौत हो गई है। इनमें एक महिला व दो पुरूष शामिल है। दो जनों की मौत भीलवाड़ा के महात्मा गांधी अस्पाताल में हुई जबकि एक जने की उदयपुर के गीतांजलि अस्पताल में हुई है। इससे कोरोना संक्रमित मरिजों के मरने वालों की संख्या बढ़कर १४ हो गए है। तीन दिन में यह चौथी मौत है।
महात्मा गांधी चिकित्सालय के अधीक्षक डॉ. अरूण गौड़ ने बताया कि शनिवार रात कोरोना पॉजिटिव कोशीथल निवासी मदनलाल सूर्या (78) ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। सूर्या 25 जुलाई को संक्रमित पाए जाने पर जिला अस्पताल के आइसोलेट वार्ड में भर्ती किया गया था। लेकिन देर रात को उपचार के दौरान दम तौड़ दिया।
वद्र्धमान कॉलोनी निवासी गीता तोषनीवाल (60) ने भी शनिवार रात को म तौड़ दिया। गीता को कोरोना पॉजिटिव आने पर एक अगस्त को ही भर्ती करवाया गया था। महिला ने एक निजी चिकित्सालय में भी अरपना उपचार करवाया था। जांच के दौरान कोरोना संक्रमित होने पर डाक्टर ने महिला को एमजीएच रेफर कर दिया था।
आरके कॉलोनी निवासी पारस गंगवाल ने उदयपुर के निजी अस्पताल में शनिवार रात को दम तौड़ दिया। गंगवाल को पहले भीलवाड़ा के शास्त्रीनगर स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। उसकी पहली रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। लेकिन हालत चिन्ता जनक होने पर बाद में महात्मा गांधी चिकित्सालय में भर्ती करवाया। यहां से कुछ देर बाद ही गंगवाल के परिवारजनों से उसे उदयपुर ले गए। जहां कोरोना जांच में वह पॉजिटिव निकले। उपचार के दौरान शनिवार को दम तोड़ दिया। एक के बाद एक तीन मौतों से चिकित्सा विभाग सकते में आ गया। भीलवाड़ा में भर्ती दोनो मरीजो को लाइफ सेविंग इंजेक्शन भी लगाया गया था। दोनों शवों को मेडिकल गाइड लाइन के अनुसार रविवार सुबह अंतिम संस्कार पंचमुखी मोक्षधाम पर किया गया। वही गंगावाल को उदयपुर में ही अन्तिम संस्कार किया गया। इससे पहले गुरुवार को हनुमान कॉलोनी शास्त्रीनगर निवासी हेमा पुत्र नानूराम तेली (70) को 21 जुलाई को महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती हुआ था। यह डायबीटीज, ब्लडप्रेशर, निमोनिया से पीडि़त था। कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1४ तक पहुंच गई है।
सूत्रों का कहना है कि कुछ दिन पहले गंगवाल के भाई का निधन हो गया था। उसके अन्तिम संस्कार में पारस गंगवाल सहित परिवार के कई सदस्यों ने हिस्सा लिया था। माना जा रहा है पारस गंगवाल की तबीयत भी उसके बाद ज्यादा बिगड़ गई थी।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned