वीविंग के चक्के फिर चलने लगे, कपड़ा होने लगा प्रोसेस

श्रमिक लौटने लगे काम पर

By: Suresh Jain

Published: 16 May 2020, 02:01 AM IST

भीलवाड़ा .

वस्त्रनगरी के लिए अच्छी खबर है। औद्योगिक इकाईयों में श्रमिक काम पर लौटने से वीविंग के थमे चक्के फिर से चलने लगे है। इस पर तैयार कपड़े का प्रोसेस भी होना शुरू हो गया है। लगभग ५४ दिन तक उद्योग बन्द रहने के बाद फिर से उद्योग शुरू होने से श्रमिकों को भी रोजगार मिलने लगा है। उधर संगम प्रोसेस में कार्यरत श्रमिक शुक्रवार को पुन: काम पर लौट गए है। इससे वहा भी काम शुरू हो गया है।
प्रति वर्ष २० हजार करोड़ का टर्न ओवर देने वाले भीलवाड़ा का टेक्सटाइल उद्योग डेढ़ माह से बन्द पड़ा था। वही मजदूर भी यहां से पलायन करने को मजबूर हो रहे थे। ऐसे में मजदूरों को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने उद्यमियों से अपने उद्योग शुरू करने का आग्रह किया। इससे कई उद्यमियों ने वीविंग व प्रोसेस का संचालन शुरू कर दिया है।
काम पर लौटे श्रमिक
चित्तौड़ रोड स्थित संगम प्रोसेस में श्रमिकों की ओर से हड़ताल करने के बाद प्रबन्धकों सूचना पट्ट पर नोटिस लगाते हुए श्रमिकों को चेताया कि वे बिना किसी सूचना के अचनाक काम बन्द करके बाहर आ गए। जो अवैधानिक है। ऐसे में प्रबन्धकों ने श्रमिकों को सलाह दी कि वे तुरन्त प्रभाव से काम पर लौटे अन्यथा काम नहीं तो वेतन नहीं के सिद्धान्त पर उनके वेतन से कटौती की जाएगी। इसके अलावा अनुशासत्मक कार्रवाई के अतिरिक्त वेतन भुगतन अधिनियम की धारा ९ के अनुसार आठ दिन का वेतन काटाजाएगा। इस सूचना के बाद शुक्रवार को सभी श्रमिक काम पर लौट आए है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned