एनजीटी का डण्डा पड़ा तो याद आई सफाई

नगर परिषद की साधारण सभा की बोर्ड बैठक

By: Suresh Jain

Published: 12 Jul 2021, 08:55 AM IST

भीलवाड़ा।
शहर की सफाई व्यवस्था को सुधारने व ट्रेचिंग ग्राउण्ड में पड़े कचरे का निस्तारण करने पर परिषद ५.५६ करोड़ रुपए खर्च करेगी। इसका कुछ पार्षदों ने विरोध किया तो सभापति पाठक ने कहा कि यह एनजीटी के निर्देश के तहत हो रहा है। अगर इस पर काम नहीं किया तो प्रतिमाह एक लाख रुपए का जुर्माना लगेगा। कचरा निस्तारण का प्रस्ताव पूरे राजस्थान में लागू होगा। इसके लिए कुछ जिले को डीएमएफटी फंड से राशि मिलेगी। पाठक ने कचरा एकत्रित करके कचरे को ट्रेचिंग ग्राउण्ड तक पहुंचाने पर १६ करोड़ का प्रस्ताव रखा तो ओम नराणीवाल ने विरोध किया। पाठक ने बताया कि यह ठेका दो वर्ष के लिए होगा। इसमें ५०-५० लाख का वेरियशन रखा गया है। ताकि इस प्रस्ताव को फिर से बोर्ड बैठक में न रखा जाए। शहर के चार जोन में फेरोकंवर लगाने के लिए २ करोड़ ५ लाख ४६ हजार रुपए व्यय किए जाएंगे।
----
परिषद देगी मृत मवेशी उठाने के लिए राशि
मृत मवेशी के निस्तारण के लिए सांगानेर में जमीन आवंटन का प्रस्ताव रखने के साथ ही मृत मवेशी के उठाने के लिए ठेकेदार को बड़े मवेशी के २०० व छोटे के १०० रुपए देने का प्रस्ताव पारित किया। अब तक परिषद शहर में मृत मवेशी उठाने के लिए ठेकेदार से राशि वसूल करता था।
- १८ कर्मचारियों को परिविक्षाकाल पूर्ण होने पर स्थाई करने। ६९ पदों पर कर्मचारियों को पदोन्नति होगी। २६ जनों को अनुकम्पात्मक नियुक्तिया दी जाएगी।
- पातोला महोदव स्थित आवासीय कम व्यवसायिक योजना में भूखण्डों की नीलामी करेगी। हरणी कलां में स्थित भूमि को मास्टर प्लान में परिधि नियंत्रण पट्टी है। जिसके फार्म हाउस के रूप में उपयोग करेगी।
- ७८१.६५ लाख के ४३ वाहन खरीदेगी
- नेहरू कॉम्प्लेक्स व्यवसायिक योजना में रिक्त पडे व्यवसायिक भूखण्ड पर डबल बेसमेन्ट पार्किंग सहित जी -4 का निर्माण पर लगभग 9 करोड़ खर्च की योजना।
- चित्रकुट धाम में इंडोर स्टेडियम बनाने की स्वीकृति पर पार्षद समदू देवी ने खिलाडिय़ों का ध्यान रखने पर आभार जताया। परिषद के कार्मिकों के लिए आवासीय मकान आवंटन किए जाएंगे।
- शास्त्रीनगर सामुदायिक भवन को बीओटी आधार पर निर्माण कराने पर मंजू पोखरना ने धन्यवाद दिया। बीओटी आधार के प्रस्ताव का पार्षदों ने विरोध किया। पाठक ने बताया कि शहर के सामुदायिक भवनों से मात्र ८० लाख की आय हुई है। इसमें से भी ७२ लाख तो केवल चौकीदारी पर खर्च हो गए। इसके अलावा अन्य रख-रखाव पर लाखों रुपए खर्च कर दिए है।
परिषद के नीजि बैक में खाते
विजय लढ्ढा ने परिषद के खाते कई निजी बैकों में खोल रखे है। जबकि नीजि बैंक कभी भी बन्द हो सकते है। ऐसे में खाते सरकारी बैंक में खोले। पार्षद मुकेश शर्मा देबू ने पार्षदों के लिए रियायती दर भूखण्ड उपलब्ध कराने की बात रखी। पार्षद लाभशंकर चौबे ने जिन्दल को दिए जा रहे पानी को बन्द करने की प्रस्ताव रखते हुए कहा कि जिन्दल ने स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं दिया। विधायक अवस्थी ने कहा यह एग्रीमेन्ट पूर्व सभापति ओम नराणीवाल के समय हुआ तो नराणीवाल ने इसका विरोध करते हुए कहा कि यह काम मेरे कार्यकाल में नहीं हुआ। १५० सफाई कर्मचारी संविदा पर लेने के लिए डीएलबी को पत्र लिखा गया है। शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर भी कई पार्षद नाराज नजर आए।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned