भीलवाड़ा एसीबी पर किस का रहा साया, जानिए

कोरोना के कहर से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की झोली इस साल करीब खाली ही रही। ब्यूरो ने कुल छह ट्रेप की कार्रवाई की, इनमें दो कार्रवाई चित्तौडग़ढ़ व राजसमंद जिले में ही हुई। जिले में छह मार्च के बाद ब्यूरो की कोई बड़ी कार्रवाई नहीं हुई। जिले के कोरोना संकट काल में लॉकडाउन से अनलॉक होने के बाद से ब्यूरो को अब जिले में बड़ी कार्रवाई का इंतजार है। कुल मिला कर एसीबी पर कोरेाना का साया रहा

By: Narendra Kumar Verma

Published: 26 Nov 2020, 02:10 PM IST

भीलवाड़ा। कोरोना के कहर से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की झोली इस साल करीब खाली ही रही। ब्यूरो ने कुल छह ट्रेप की कार्रवाई की, इनमें दो कार्रवाई चित्तौडग़ढ़ व राजसमंद जिले में ही हुई। जिले में छह मार्च के बाद ब्यूरो की कोई बड़ी कार्रवाई नहीं हुई। जिले के कोरोना संकट काल में लॉकडाउन से अनलॉक होने के बाद से ब्यूरो को अब जिले में बड़ी कार्रवाई का इंतजार है। कुल मिला कर एसीबी पर कोरेाना का साया रहा

कोरोना संक्रमण काल के कारण दो माह लॉक डाउन फिर अनलॉक की पाबंदियों का सीधा असर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की भीलवाड़ा में स्थापित दोनों एसीबी चौकी पर नजर आया है। यहां मार्च माह के बाद घूस मांगे की शिकायतें गिनती की ही पहुंची, इनकी भी सत्यापन के दौरान पृष्टि नहीं हो सकी। हालांकि नगर परिषद, नगर विकास न्यास, निर्माण विभाग, पुलिस, शिक्षा व चिकित्सा विभाग से संबधित अनियमितता की भी कुछेक शिकायतें मिली, जिनकी भी प्रारंभिक जांच में पृष्टि नहीं हो सकी। राज्य सरकार के सीधे परिवाद दर्ज कर एसीबी मुख्यालय पर मुकदमा दर्ज करने के लिए पत्रावली भेजने की व्यवस्था वर्ष २०१८ से समाप्त कर दी है। अब प्रारंभिक स्तर पर जांच पुख्ता होने पर ही सीधे मुकदमें दर्ज होते है। वही जिला मुख्यालय पर स्थापित एसीबी की विशेष यूनिट को भीलवाड़ा की द्वितीय चौकी में तब्दील कर दिया गया।

............................
चौकी प्रथम: दो ट्रेप
सुखाडिय़ा सर्किल स्थित भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की प्रथम चौकी ने इस साल अभी तक दो ट्रेप की कार्रवाई की है। इनमें एक कार्रवाई ब्यूरो ने राजसंद जिले में की। यहां भीम विकास अधिकारी को गत २४ फरवरी को दस हजार रुपए के साथ पकड़ा। ब्यूरो इकाई ने इस साल एक चालान गत वर्ष लिपिक के खिलाफ हुई कार्रवाई पर पेश किया। गत वर्ष चौकी की प्रथम इकाई ने कुल सात ट्रेप किए थे, इसी प्रकार चार पद का दुरुपयोग व एक आय से अधिक का मामला भी दर्ज किया था। इसी प्रकार दस चालान पेश किए थे।
.....................
चौकी द्वितीय: चार ट्रेप
ब्यूरो की कृषि उपज मंडी स्थित चौकी द्वितीय ने इस साल अभी तक ट्रेप की कुल चार कार्रवाई की है। ब्यूरो टीम ने ६ मार्च को हमीरगढ़ पटवारी को डेढ लाख रुपए की घूस राशि के साथ पकड़ा था। इसी प्रकार चित्तौडग़ढ़ में २७ मई को कार्रवाई के दौरान दो खाद्य निरीक्षक को दस हजार रुपए की घूस लेते पकड़ा। इस कार्रवाई के बाद चौकी में ट्रेप की अन्य कार्रवाई नहीं हुई।
............
आशंकाओं ने घेरे रखा
कोरोना संकट काल में नोट लेना, नोट में रंग लगाना, नोट गिनना तथा सत्यापन के दौरान मिलना जुलना समेत आदि को लेकर लोग कोरोना संक्रमण होने को लेकर आशंकित थे, संभवत: इसी कारण पीडि़त लोग एसीबी को शिकायत करने से कतराए हुए थे। लॉक डाउन के दौरान दो माह तक कार्यालय बंद रहने और उसके बाद अनलॉक के कड़े प्रावधानों के कारण भी लोग एसीबी से दूरी बनाए हुए थे।
...................................
एएसपी का पद रिक्त
चौकी प्रथम के एएसपी सौभाग्य सिंह के सेवानिवृत्त होने के बाद पद खाली है। चौकी द्वितीय के प्रभारी एएसपी बृजराजसिंह चारण ही प्रथम का कार्यभार संभाले हुए है।
..............

ब्यूरो की दोनों इकाई ने कई अच्छी कार्रवाई की है, लंबित प्रकरणों में अनुसंधान का कार्य व्यवस्थित तरीके से हुआ और कई मामलों में चालान भी पेश हुआ है। कोरोना संकट काल के कारण भी कई परेशानी रही। परिवादी के लिए एसीबी के द्वार खुले हुए है, ऑनलाइन के साथ टोल फ्री व हेल्प लाइन पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।
- बृजरासिंह चारण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एसीबी )

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned