भीलवाड़ा कलक्टर क्यूं साइकिल ले कर सड़क पर उतर आए, पढि़ए

शहर के हाल जानने के लिए सुबह जिला कलक्टर शिव प्रसाद नकाते साइकिल लेकर सड़क पर उतर आए। नजारा यह था कि उनकी साइकिल आगे थी तो प्रशासनिक लवाजमा पीछे वाहनों में था, कलक्टर की साइकिल रूकते ही अधिकारी भी वाहनों से उतर कर उनके पीछे दौड़ते दिख। कलक्टर ने करीब आठ किलोमीटर की दूरी शहर में नापी और ३८ स्थान पर अपनी साइकिल रोकी। कलक्टर को साइकिल पर देख कर लोगों को एकबारगी अचरज ही हुआ

By: Narendra Kumar Verma

Published: 28 Oct 2020, 10:43 AM IST

भीलवाड़ा। शहर के हाल जानने के लिए सुबह जिला कलक्टर शिव प्रसाद नकाते साइकिल लेकर सड़क पर उतर आए। नजारा यह था कि उनकी साइकिल आगे थी तो प्रशासनिक लवाजमा पीछे वाहनों में था, कलक्टर की साइकिल रूकते ही अधिकारी भी वाहनों से उतर कर उनके पीछे दौड़ते दिख। कलक्टर ने करीब आठ किलोमीटर की दूरी शहर में नापी और ३८ स्थान पर अपनी साइकिल रोकी। कलक्टर को साइकिल पर देख कर लोगों को एकबारगी अचरज ही हुआ, नकाते की साइकिल शहर के सात प्रमुख बाजार व ११ मुख्य मार्गों से गुजरी। इस दौरान कई स्थानों पर सफाई के बिखरे हालात देख कर उन्हें पीड़ा भी हुई।

सुबह ७.१५ बजे से ९ बजे शहर के जायजे के दौरान उन्हें कई स्थानों पर अव्यवस्थाएं दिखी। उन्होंने गुस्सा भी दिखाया और अधिकारियों की खिंचाई भी की। माणिक्यनगर क्षेत्र से गुजरते वक्त को कलक्टर ने घर से लोगों को बाहर बुला लिया और उनसे कहा कि घर के सामने की सड़क ३० अक्टूबर से पहले नहीं बने तो मुझे बताए, सीवरेज परियोजना के अधिकारियों को भी मौके पर कह दिया कि वो दीपावली से पहले नया काम शुरू ना करे और पहले पुराना काम निपटाए।

राह में रूकने के दौरान वो क्षेत्र के लोगों से बिजली,पानी, सफाई, सीवरेज आदि को लेकर सवाल जवाब भी करते रहे, अधिकांश लोगों ने तो संबधित विभागों पर समस्याओं के समाधान पर नाराजगी ही जताई। उनके साथ प्रशासनिक लवाजमें में नगर परिषद, नगर विकास न्यास, जलदाय, एवीएनएल, सीवरेज परियोजना समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी थे।

नकाते ने शहर को दीपावली से पूर्व साफ सुधार बनाने व प्रमुख बाजारों को अतिक्रमण से मुक्त करने के दिशा निर्देश दिए। इसी प्रकार शहर के व्यस्तम बाजार आजाद चौक क्षेत्र को नो व्हीकल जोन घोषित करते हुए यहां भूमिगत पार्किग व्यवस्था करने की कार्य योजना पर भी अधिकारियों से चर्चा की।

लवाजमें में ं आयुक्त दुर्गा देवी, अधिशासी अभियंता एसपी संचेती व अखेराम बडोदिया, यूआईटी एईएन ब्रह्मालाल के साथ ही जलदाय,एवीएनएल, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य,सीवरेज परियोजना के साथ ही विभिन्न विभागों के अधिकारी शामिल थे।
माणिक्यनगर चौराहा से गुजरते समय कचरा स्टैंड के बाहर कचरा देख कर रूक गए। यहां के हालात देख कर नाराजगी जाहिर की, कुछ ही दूरी पर सड़क के बीच गंदा पानी फैला होने के साथ कीचड़ नजर आने पर नगर परिषद आयुक्त दुर्गा कुमारी को टोका। रास्ते में कई स्थानों पर आवारा मवेशियों को सड़क पर डेरा डाले होने के साथ आपस में गुत्थगुथा होते देख कर भी हैरानी जताई।

रोडवेज बस स्टैंड का समीप नाले को चॉक होने एवं कचरा देख कर चौके, उन्हें नाले को साफ करने एवं क्षेत्र से गंदगी उठाने के लिए कहा। निकट ही क्रोसिंग नाले के चैम्बर पर ढक्कन के बजाए पत्थर देख कर उस े हटवाया और यहां लोह का ढक्कन लगाने के निर्देश दिए। हरीशेवा धाम के पिछवाडे चारे की दुकान देख कर उसे हटाने व चारे के पूले जप्त करने को कहा। आजाद चौक क्षेत्र में डेयरी के समीप कचरा स्टैंड के हालात व सड़क पर पानी फैला देख कर नाराज हुए। करीब दो घंटे शहर भ्रमण के दौरान उन्होंने सीवरेज निर्माण कार्य भी देखा। सर्किलों व सड़कों की स्थिति भी परिषद अधिकारियों से जानी।

नकाते ने श्री गेस्ट हाउस चौराहा व माणिक्यनगर रोड पर सीवरेज निर्माण कार्य को देखा, परियोजना के अधिकारियों को कहा कि वह समय रहते काम पूरा करे। यहां मानसिंहका टाल क्षेत्र में पाइप लाइन में लिकेज से पानी फैला होने पर शहर में इस प्रकार के तमाम लिकेज दूर करने को कहा। आजाद चौक समेत कई हिस्सों में विद्युत पोल पर तारों का जाल लटका होने व डीपी के डिब्बे क्षतिग्रस्त होने पर भी दुरुस्त करने को कहा।

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned